Khas-KhabarNational

69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़ा का खुलासा करने वाले SSP सत्यार्थ पंकज का ट्रांसफर, नहीं मिली नई पोस्टिंग

Lucknow: रविवार देर रात योगी सरकार ने 14 आइपीएस अधिकारियों का ट्रांसफर किया है. तबादले की सूची में प्रयागराज के एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज का भी नाम है. बता दें कि सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज, वहीं अधिकारी हैं जिन्होंने 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़े का खुलासा अपनी टीम के साथ मिलकर किया था.

प्रयागराज के एसएसपी पद से हटाये जाने के बाद सत्यार्थ अनिरुद्ध को अभी नई तैनाती नहीं मिली है, उन्हें प्रतीक्षारत रखा गया है. जबकि, एसपी पीलीभीत अभिषेक दीक्षित को प्रयागराज का नया एसएसपी नियुक्त किया गया है. खबर है कि सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज कोरोना से संक्रमित हो गए हैं. उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट कराया जा रहा है.

एसएसपी ने दर्ज करवाया था मुकदमा

बता दें कि 69000 सहायक शिक्षक भर्ती मामले में फर्जीवाड़े को लेकर अभ्यर्थी डॉ. कृष्ण लाल पटेल के खिलाफ आरोप तो लगा रहे थे, लेकिन कोई तहरीर लेकर मुकदमा दर्ज कराने को तैयार न था.

advt

यहां तक कि जिन अभ्यर्थियों से इस गैंग ने लाखों रुपए वसूले थे, वह भी डर के मारे सामने नहीं आ रहे थे. लेकिन 4 जून को जब प्रतापगढ़ के एक अभ्यर्थी राहुल सिंह ने एसएसपी से संपर्क किया, जिसके बाद मामले पर तत्काल कार्रवाई शुरू हो गई. एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने राहुल की तहरीर पर सोरांव थाने में मुकदमा दर्ज कराया.

इस मामले में एसएसपी ने खुद जांच की मॉनिटरिंग की थी. इस जांच में दो ऐसे आईपीएस अफसरों को लगाया गया था, जिन्होंने शिक्षा जगत की बुनियाद में सेंध लगाकर ईमानदार, परिश्रमी अभ्यर्थियों का हक मारने वाले माफियाओं का तंत्र ध्वस्त किया.

adv

जांच के दौरान शुरुआत में ही पुलिस ने एक कार से जा रहे छह संदिग्धों को साढ़े सात लाख रुपए के साथ हिरासत में ले लिया. पुलिस अफसरों ने सीबीआइ की तरह गैंग में शामिल डॉ. कृष्ण लाल पटेल, स्कूल संचालक ललित त्रिपाठी और लेखपाल संतोष बिंदु को हिरासत में लेकर पूछताछ की और 22 लाख से अधिक कैश बरामद कर लिया.

शिक्षक भर्ती के मामले में तमाम एफआइआर कराने और नकल माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने वाले एसएसपी को प्रतीक्षारत कर देने से शासन पर कई सवाल खड़े हो रहे हैं. सरकार के आदेश के बाद सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने सोशल मीडिया पर विदाई संदेश लिखा है.

कोरोना से पीड़ित अनिरुद्ध पंकज

69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करनेवाले सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं. दरअसल, एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज के गनर में संक्रमण की पुष्टि हुई थी. इसके बाद एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध को एसआरएन के कोरोना सस्पेक्ट वार्ड में भर्ती कराया गया था. जहां उनका सैंपल टेस्ट के लिये लिया गया था. मंगलवार सुबह एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई है. अब उन्हें दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया गया है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: