न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्कूल पर गोलीबारी करने वालों के खिलाफ शिक्षकों को दी जा रही ट्रेनिंग

560

San Antonio : लंबे समय से गन कल्चर का दंश झेल रहे अमेरिका ने कई बार बेगुनाहों के खून पर आंसू बहाए हैं, मगर ये सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा. लगातार स्कूलों में गोलीबारी की घटना को लेकर खबरे आती रही है. जिसे देखते हुए टेक्सास के शिक्षकों को स्कूलों में गोलीबारी करने वालों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई करने के लिए हथियार चलाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. ताकि इस तरह की घटनाओं पर लगाम लगाया जा सके. टेक्सास और उसके आस – पास के स्कूलों के शिक्षकों और प्रधानाचार्यों के एक समूह ने राज्य के स्कूल मार्शल कार्यक्रम में शामिल होने के लिए इस हफ्ते नामांकन कराया है. इस कार्यक्रम के जरिए वह सीखेंगे कि अगर कोई हमला होता है तो उसपर किस तरह कार्रवाई की जाए और जिंदगियों को कैसे बचाया जाए.

इसे भी पढ़ें- सदियों पुरानी परंपरा पत्थलगड़ी पर तनाव और टकराव क्यों?

शिक्षकों को लेनी होगी 80 घंटे की ट्रेनिंग

फ्लोरिडा और ह्यूस्टन के पास के स्कूलों में हुई हालिया गोलीबारी की घटना के बाद टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट इस बात से खुश हैं कि चार साल पहले शुरू हुए इस कार्यक्रम में अब ज्यादा भागीदारी देखने को मिल रही है. इस कार्यक्रम में स्वेच्छा से भाग लिया जा सकता है और आवेदकों को पहले उन जिलों से अनुमति लेनी होगी जहां उनका स्कूल स्थित है. उन्हें एक मनोविज्ञान संबंधी परीक्षा पास करनी होगी और 80 घंटे का प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा.

इसे भी पढ़ें- घाटे में चल रही IDBI में 13 हजार करोड़ निवेश करेगी LIC

पहले भी हो चुकी है गोलीबारी की घटना 

गौरतलब है कि अमेरीका के फ्लोरिडा में इसी साल एक स्कूल में एक सनकी बंदूकधारी ने 17 छात्रों और कर्मचारियों को मौत के घाट उतार दिया था. इस घटना के बाद अमेरिका में गन कल्चर को लेकर गंभीर बहस छिड़ गई थी. इस घटना के बाद अमेरीका में बंदूक रखने संबंधी कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन हुए थे. गौरतलब है कि केंतुकी के ग्रामीण इलाके में स्थित एक हाईस्कूल में भीड़ से भरे हॉल में 15 वर्षीय एक छात्र के अचानक गोलीबारी करने से उसके दो सहपाठियों की मौत हो गयी थी और कई विद्यार्थी घायल हो गये थे. इससे पहले बीते वर्ष नवंबर माह में भी अमेरिका के टेक्सास प्रांत में एक बैपटिस्ट चर्च में हुई गोलीबारी में करीब 26 लोगों की मौत हो गयी थी. इस हमले में कई लोग घायल भी हुए थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: