न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

PMCH: प्रशिक्षु डॉक्टरों को नये साल में देर रात तक पार्टी करना पड़ा महंगा, हॉस्टल खाली करने का आदेश  

5 पुरुष और 6 महिला डॉक्टरों पर हुई कार्रवाई

1,282

Dhanbad: 31 दिसंबर 2018 को, देर रात तक कॉलेज प्रशासन को बिना सूचना दिये होटल में नववर्ष की पार्टी करना पीएमसीएच के 11 इंटर्न (प्रशिक्षु डॉक्टर) को भारी पड़ गया. कॉलेज के प्राचार्य डॉ. शैलेंद्र कुमार ने अनुशासनहीनता के आरोप में उनकी इंटर्नशिप पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है. सभी को एक माह के लिए कॉलेज का हॉस्टल भी खाली करने का निर्देश जारी किया गया है. 11 प्रशिक्षु डॉक्टरों में छह महिलाएं भी हैं. इनके नाम हैं सौम्या, स्नेह मंजरी, उत्कर्षा चक्रपाणी, नलिनी सिंह, सौम्या रंजन, रीमा कुजूर, भावेश तिवारी, सौम्य शालीन चौधरी, ऋषभ आनंद, अभिषेक झा और अमन सिंह.

क्या है मामला

मेडिकल कॉलेज में यह नियम है कि यदि किसी को रात 8:30 बजे के बाद हॉस्टल से बाहर जाना है तो वार्डन से आदेश लेना पड़ता है. हॉस्टल से निकलने और आने का समय भी बताना पड़ता है. बावजूद 31 दिसंबर की रात इंटर्न हॉस्टल से 11 प्रशिक्षु डॉक्टर बिना सूचना चले गये. कॉलेज प्रशासन को इसकी भनक नहीं लगी. ये सभी सरायढेला में एक बड़े होटल में पार्टी कर रहे थे. रात दो बजे तक ये होटल के ही आसपास थे. उस समय सरायढेला पुलिस ने सभी को बिग बाजार के समीप देखा. पुलिस कें अनुसार जो बातें सामने आ रही हैं उसमे इन छात्रों कें द्वारा हंगामा करने का आरोप लगाया गया हैं. इसके बाद पुलिस ने कॉलेज प्रशासन को सूचना दी. प्रशासन ने सभी के अभिभावकों को तलब किया. 17 जनवरी को सभी के अभिभावकों को कॉलेज के प्राचार्य कक्ष में उपस्थित होना था लेकिन कोई नहीं आया. तब प्राचार्य ने सभी पर अनुशासनहीनता के आरोप में कार्रवाई की.

इसे भी पढ़ेंः डीटीओ संजीव कुमार के खिलाफ वारंट लेकर दिल्ली पुलिस पहुंची ऑफिस, गिरफ्तारी की उड़ी अफवाह

 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: