JamshedpurJharkhand

Traders Protest: धरना पर बैठे जमशेदपुर के कारोबारी, विधायक सरयू राय भी हुए शामिल, जानिए क्‍यों है गुस्‍सा

Jamshedpur: जमशेदपुर के बिष्‍टुपुर थाना क्षेत्र में सोमवार को ज्‍वेलर्स के कर्मचारी से दिनदहाड़े लूट लिये जाने की घटना के बाद जमशेदपुर पुलिस सवालों के घेरे में है. घटना से कारोबारी आक्रोशित हैं.  मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली है. विधि – व्‍यवस्‍था के मुद्दे पर सिंहभूम चैंबर ऑफ कॉमर्स के बैनर तले शहर के कारोबारियों ने धरना दिया. मांग की क‍ि पुलि‍स अपनी कार्यशैली बदले एवं अपराधियों को काबू में करे.
गौरतलब  हो कि बाइक सवार अपरा‍धियों ने 32 लाख रुपये की लूट की थी. ये रुपये मशहूर आभूषण कारोबारी छगनलाल- दयालजी एंड संस के थे. घटना के पुलिस-प्रशासन ने भरोसा दिया था कि एक दिन के भीतर ही अपराधियों को पकड़ लिया जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. इसके खिलाफ तमाम व्यापारी धरने पर बैठे. बिष्‍टुपुर ट्रैफिक सिग्नल के पास धरना दिया गया जिसमें जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय भी शामिल हुए. उन्होंने राज्य में बढ़ते अपराध के लिए सरकारी तंत्र को दोषी बताया. उन्होंने कहा कि कहीं भी जब लूट की घटना घटित होती है, उसका पुलिस उदभेदन कर अपराधियों को जेल भेजती है, लेकिन लूटे गए पैसे या अन्य सामान की बरामदगी नहीं के बराबर होती है. लगातार व्यापारी ही नहींं, आम जनता भी इसका दंश झेलती है. विधायक ने कहा कि सरकार को सख्त होना चाहिए और जिला पुलिस-प्रशासन को अपनी कार्यशैली में परिवर्तन लाना चाहिए ताकि विधि – व्यवस्था इतनी दुरुस्त हो कि अपराधी अपराध को अंजाम ही नहीं दे सके.

ये भी पढ़ें- जमशेदपुर : 32 लाख के लूटकांड के खुलासे के लिए एसआइटी का गठन, एसएसपी ने 24 घंटे में बैंकों के सीसीटीवी की जांच कर मांगी रिपोर्ट

Related Articles

Back to top button