JharkhandRanchi

#TPC उग्रवादियों ने लेवी के लिए की कोयला व्यवसायी साबीर अहमद की हत्या

Ranchi/Chatra : खलारी के रहने वाले कोयला व्यवसायी साबीर अहमद की हत्या टीपीसी उग्रवादियों के द्वारा लेवी के लिए की गयी.

Jharkhand Rai

इस संबंध में मृतक साबीर अहमद के भाई साजिद अहमद द्वारा पुलिस को दिये बयान में कहा गया है कि उसके भाई साबीर अहमद को कुछ दिन पहले फोन पर टीपीसी के एरिया कमांडर आदेश गंझु के आदमी सूर्या ने फोन पर धमकी दी थी कि तुम प्रति ट्रक 300 रुपये रंगदारी दो, नहीं तो अंजाम बुरा होगा.

इस संबंध में साबिर अहमद ने अपने भाई को बताया था कि टीपीसी के लिए पैसा वसूली करने वाले नरेश गंझू और विनय खलको ने बोला है कि काम करोगे तो पार्टी में पैसा देना होगा.

मृतक के भाई साजिद अहमद ने दावा करते हुए कहा है कि उसके भाई साबिर अहमद की हत्या लेवी के लिए टीपीसी उग्रवादियों ने की है.

Samford

इसे भी पढ़ें : #DoubleEngine की सरकार में बेबस छात्र(3)- चार साल तक नहीं ले सकी अकाउंट अफसर की परीक्षा, पांचवे साल किया रद्द

पुरनाडीह कांटा के पास मारी गयी थी गोली

खलारी निवासी कोयला व्यवसायी साबीर अहमद की पिपरवार थाना क्षेत्र अंतर्गत एनके एरिया के पुरनाडीह कांटाघर के समीप रविवार की सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी.

साबीर अहमद ‘आधुनिक एलॉय एंड पावर लिमिटेड जमशेदपुर’ के लिए कोयला लिफ्टिंग का काम करता था. रविवार की सुबह ट्रकों को कांटा करवाने पुरनाडीह क्वायरी वन के कांटा नंबर दो गया था.

साबीर कांटाघर के समीप ही था कि अज्ञात युवक ने उस पर पिस्टल तान दी. पिस्टल देख वहां खड़े सभी लोग भागने लगे. साबीर भी भागा. पिस्टल लिए दो युवक साबीर का पीछा करते हुए गोली चलाने लगे.

इसमें एक गोली साबीर को लगी. साबीर जान बचाने के लिए पुरनाडीह पीओ कार्यालय की ओर भागने लगा लेकिन पीओ ऑफिस से 50 मीटर पहले ही गिर पड़ा.

हत्यारे उस पर गोली चलाते हुए पीछा करते आ रहे थे. साबीर के जमीन पर गिरते ही लगातार पांच गोली मार दी. इसके बाद हत्यारे मोटरसाइकिल से भाग निकले.

गोली चलने के बाद कांटाघर और पीओ ऑफिस के आसपास भगदड़ मच गयी.

इसे भी पढ़ें : #JanAashirwadYatra : नक्सल हिंसा में मारे गये शख्स के बेटे ने नौकरी मांगी, CM बोले- फोटो खिंचवाने के लिए कर रहा प्रदर्शन

 रांची के मेडिका हॉस्पिटल में हुई मौत

गोली मारने की घटना में बाद घायल साबीर को तत्काल एनके एरिया के डकरा स्थित केंद्रीय अस्पताल ले जाया गया, जहां से प्राथमिक इलाज के बाद रांची रेफर कर दिया गया.

लोग उसे लेकर रांची के मेडिका अस्पताल ले जा रहे थे, परंतु रांची पहुंचते ही उसने दम तोड़ दिया. साबीर के शरीर में छह गोलियां लगी हैं.

इसमें सिर पर दो गोली, बाएं हाथ पर एक, दाहिने हाथ पर दो तथा एक गोली पीठ पर लगी है.

इसे भी पढ़ें : #Scam गिरिडीहः डाकघर के तीन बाबुओं ने किया 11 करोड़ 64 लाख का गबन, तीनों सस्पेंड

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: