न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

टीपीसी उग्रवादी कोहराम हजारीबाग से गिरफ्तार

1,283

Ranchi: पुलिस ने प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीपीसी के उग्रवादी लक्ष्मण गंझू उर्फ कोहराम को गिरफ्तार कर लिया है. कोहराम की गिरफ्तारी हजारीबाग के कटकमसांडी थाना क्षेत्र विष्णुपुरी मोहल्ले से हुई है. चतरा पुलिस ने उसके पास से 19.65 लाख रुपया नकद जब्त किया है. जानकारी के मुताबिक इसी मोहल्ले में कोहराम का आलीशान बंगला भी है. जिसे पुलिस ने वर्ष 2016 में सील कर दिया था.

इसे भी पढ़ेंःचतरा पुलिस को मिली बड़ी सफलताः पत्रकार इंद्रदेव का हत्यारा नक्सली मुनेश गंझू गिरफ्तार

अभी वह अपने घर के पास ही भाड़े के मकान में छिप कर रह रह था. एसपी अखिलेश वी वारियर को मिले गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने टीएसपीसी के सेकेंड इन चीफ 20 लाख के इनामी नक्सली जोनल कमांडर लक्ष्मण गंझू उर्फ कोहराम को गिरफ्तार किया है. हालांकि इस मामले में अभी तक पुलिस के कोई भी पदाधिकारी कुछ भी बताने से इंकार कर रहे हैं. लेकिन कोहराम की गिरफ्तारी के बाद से संगठन में हड़कंप मचा हुआ है.

hosp1

टीपीसी संगठन में सेंकेड सुप्रीमो है कोहराम

टीपीसी संगठन में कोहराम का स्थान दूसरा है. पहले स्थान पर ब्रजेश गंझू है. जिसके बाद कोहराम ही संगठन को देखता था. टंडवा और पिपरवार इलाके में कोहराम के इशारे पर ही कोयला ट्रांसपोर्ट कंपनियों से हर माह 10 करोड़ रुपये से अधिक की लेवी की वसूली की जाती रही थी. कोहराम की तलाश पुलिस को लंबे समय से थी. लेकिन वह लगातार पुलिस को चकमा देता रहा है. कहा तो यह भी जाता है कि कई सीनियर पुलिस अफसरों के साथ कोहराम के साथ अच्छे संबंध रहें हैं. जिन्हें वह लेवी के रुप में वसूले गये राशि में से उनका हिस्सा पहुंचाता रहता था.

इसे भी पढ़ेंःबदला लेने की नीयत से नाबालिग से रेप के दोषी को 20 साल की सजा

कोहराम पर हत्या, लूट, रंगदारी, लेवी व नक्सल घटनाओं को अंजाम देने के दर्जनों मामले चतरा, हजारीबाग, लातेहार, पलामू समेत झारखंड-बिहार के विभिन्न थानों में दर्ज है. इसके अलावे वह जिले के टंडवा थाना क्षेत्र में संचालित मगध व आम्रपाली समेत अन्य कोल परियोजनाओं में दहशत बनाकर नक्सलियों द्वारा किये जा रहे अवैध वसूली का मास्टरमाइंड भी है.

लेकिन पिछले करीब आठ माह से चतरा पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए लगी हुई थी. चतरा के नये एसपी ने कोहराम के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज की थी. वर्तमान में कोहराम पुलिस के अलावे एनआइए व अन्य राष्ट्रीय जांच एजेंसियों के रडार पर भी था. 12 सितंबर को एक सूचना के आधार पर चतरा पुलिस ने छापामारी करके उसे गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तारी से हड़कंप

कोहराम की गिरफ्तारी से सिर्फ टीपीसी संगठन  में ही नहीं बल्कि  संगठन से जुड़े सफेदपोशों में हड़कंप मच गया है. पुलिस किसी गुप्त स्थान पर रखकर कोहराम से पूछताछ कर रही है. इससे पूर्व भी पुलिस ने कोहराम के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए उसके लावालौंग स्थित घर मे कुर्की जब्ती की थी.

यहां उल्लेखनीय है कि 12 सितंबर को चतरा पुलिस ने टीपीसी के उग्रवादी मुनेश गंझू को गिरफ्तार किया था. मुनेश की तलाश पुलिस को पत्रकार इंद्रदेव की हत्या में थी. इससे पहले नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने रांची से टीपीसी के उग्रवादी बिंदु गंझू को गिरफ्तार किया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: