Main Slider

शीर्ष माओवादी नेता गणपति ने पद छोड़ा, कबड्डी खिलाड़ी बासव राव नये प्रमुख

Ranchi: भारत की कम्युनिस्ट पार्टी माओवादी के जनरल सेक्रेटरी मुपल्ला लक्ष्मण राव उर्फ ने 75 साल की उम्र में जहर से संबंधित बीमारी से ग्रस्त होने के बाद अपना पद छोड़ दिया है. उनकी जगह श्रीकाकाकुलम के केशव राव उर्फ बासव राव को संगठन का प्रमुख बनाया गया है. पूर्व कबड्डी खिलाड़ी 64 साल के बासव राव ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में उग्रवादी पकड़ हो रही कमजोर, पिछले चार साल में एनकाउंटर में 76 उग्रवादी मारे गये, 949 हुए गिरफ्तार

सेंट्रल कमेटी में नौ नये चेहरे शामिल

Catalyst IAS
SIP abacus

प्रमुख अंग्रेजी अखबार द टाइम्स आफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक सीपीआइ माओवादी ने अपनी सेंट्रल कमेटी में छह नये चेहरे को भी शामिल करने का निर्णय लिया है. समिति के सदस्यों की गिरफ्तारी और कई के समर्पण करने के बाद सन 2010 में सदस्यों की संख्या 39 से घट कर 15 हो गयी थी. पुलिस सूत्रों के मुताबिक सन 2007 में हुई यूनिटी कांग्रेस में पीपुल्स वार ग्रुप की सीपीआइ माओवादी में विलय की घोषणा के बाद सन 2012 में कांग्रेस हुई. उसके बाद से नहीं हुई है.

MDLM
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – एक सप्ताह में ही स्थापना दिवस समारोह का टेंट निर्माण की टेंडर का शर्त बदला

2003 में कमान संभाली थी गणपित ने

वर्ष 2003 में गणपति ने पार्टी की कमान संभाली थी. कमान संभालने के बाद देश भर में माओवाद चरम पर पहुंच गया था. गणपित की रणनीति थी कि देश में व्याप्त भ्रष्टाचार खत्म हो, कारपोरेट दमन, किसानों पर जुल्म के विरुद्ध आंदोलन खड़ा हो.

Related Articles

Back to top button