Lead NewsNationalNEWSSportsTOP SLIDER

Tokyo Olympics: हॉकी में गोल्ड का सपना टूटा, बेल्जियम ने 5-2 से भारतीय लड़ाकों को पछाड़ा

अब 5 अगस्त को कांस्य के लिये ऑस्ट्रेलिया या जर्मनी से भिड़ेगा भारत

New Delhi: भारतीय हॉकी टीम की टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड पाने की ख्वाहिश अधूरी रह गई. फाइनल में जगह पाने के लिये बेल्जियम के साथ हुए मुकाबले में भारतीय लड़ाके बुरी तरह पिछड़ गये. बेल्जियम ने भारत को 5-2 के बड़े फर्क से हरा दिया. इससे पहले 49 वर्षों के बाद पुरुष हॉकी टीम ने सेमीफाइनल में जगह बनाकर भारतीयों में गोल्ड पाने की उम्मीद जगाई थी. हालांकि, इस टीम के पास अभी कांस्य पदक पाने का मौका है.

इसे भी पढ़ेंःADJ उत्तम आनंद मौत मामलाः हाई कोर्ट में आज सुनवाई, दो आरोपियों की होगा ब्रेन मैपिंग टेस्ट  

बेल्जियम के साथ हुए बड़े मुकाबले के पहले क्वार्टर में भारत ने 2-1 की बढ़त बना ली थी. भारत के लिए पहले क्वार्टर में मनदीप सिंह और हरमनप्रीत सिंह ने गोल किया था. भारत दूसरे क्वार्टर में एक भी गोल नहीं कर पाया, जबकि बेल्जियम की टीम बराबरी करने में सफल रही. मैच के तीसरे क्वार्टर में दोनों ही टीमों की तरफ से कड़ा मुकाबला देखने को मिला, लेकिन कोई भी टीम गोल करने में सफल नहीं हुई. हालांकि, दोनों टीमों के पास पेनाल्टी कार्नर के जरिए गोल करने का मौका था, लेकिन डिफेंड की वजह से कोई टीम सफल नहीं हुई.

advt

 

तीसरे क्वार्टर के बाद भी मुकाबला 2-2 से बराबरी पर था. चौथे क्वार्टर बेल्जियम ने जबरदस्त खेल का प्रदर्शन किया. एक के बाद एक तीन गोल कर मुकाबले को 5-2 से अपने नाम कर लिया. बेल्जियम ने पांच में से  चार गोल पैनल्टी कॉर्नर के माध्यम से किये.  एक गोल पैनल्टी स्ट्रोक के जरिये आए. बेल्जियम की  तरफ से एलेग्जेंडर हेंड्रिक्स ने हैट्रिक लगाया. एलेग्जेंडर इस टूर्नामेंट में 10 से अधिक गोल करने में सफल रहे.  अब भारत पांच अगस्त को ऑस्ट्रेलिया और जर्मनी के मैच में हारने वाली टीम से कांस्य के लिये भिड़ेगा.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: