Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDER

Tokyo Olympics: 41 साल बाद हॉकी में पदक, भारत ने जर्मनी को 5-4 से पछाड़कर कांस्य पदक जीता  

टोक्यो ओलंपिक में भारत की झोली में 4 पदक आए, 5वां पक्का

New Delhi : टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने कांस्य पदक जीतकर 41 वर्षों का सूखा खत्म किया. भारत ने जर्मनी को 5-4 से पछाड़कर जीत दर्ज की. कभी हॉकी में बादशाहत रखने वाले भारत के लिये यह बड़ी उपलब्धि है. पुरुषों के कांस्य जीत के साथ ही महिलाएं भी कांस्य जीतने के लिये बेकरार हैं. यदि महिलाएं भी कांस्य जीतने में सफल रहती है तो यह जीत इतिहास बन जायेगा.

 

इसे भी पढ़ें : ओलंपिक के सेमीफाइनल में सलीमा का खेल देखने उनके आंगन में जुटा पूरा गांव

advt

भारत की जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने टीम को बधाई दी है. पीएम ने ट्विटर पर लिखा है “कांस्य पदक जीतने के लिए हमारी पुरुष हॉकी टीम को बधाई. इस उपलब्धि के साथ, उन्होंने पूरे देश, खासकर हमारे युवाओं की कल्पना पर कब्जा कर लिया है. भारत को अपनी हॉकी टीम पर गर्व है.

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी पुरष हॉकी टीक के शानदार जीत पर बधाई दी है. सीएम ने ट्विटर पर लिखा है ” टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक हासिल करने के लिए इस तरह के उत्साही और बहादुर प्रदर्शन के लिए हम आपके शानदार प्रदर्शन को याद रखना जारी रखेंगे और आप देश के लिए और अधिक सम्मान ला सकते हैं.”

इस पदक के साथ ही टोक्यो ओलंपिक में भारत की झोली में अबतक 4 पदक आ चुके हैं. जिनमें एक रजत व तीन कांस्य पदक शामिल हैं. रजत पदक वेटलिफ्टिंग में मीरा बाई चानू ने हासिल किया है. बैडमिंटन में पीवी सिंधू रेसलिंग में लेवलीना ने कांस्य पदक हासिल किया है. अब ये हॉकी का भारत के लिए चौथा पदक है. अब भारत को कुश्ती में रवि कुमार दहिया से गोल्ड की उम्मीद है. मालूम है कि दहिया फाइनल में प्रवेश कर रजत पक्का कर चुके हैं. यह मुकाबला आज शाम चार बजे है.

इससे पहले भारत व जर्मनी दोनों को सेमीफाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है. इस मुकाबले में इस मुकाबले में जर्मनी की तरफ से पहले क्वार्टर में ओरुज टिमूर ने गोल किया और 1-0 की बढ़त भारत के खिलाफ बनाई, लेकिन दूसरे क्वार्टर में भारत ने बराबरी कर ली. भारत के लिए दूसरे क्वार्टर में सिमरनजीत सिंह ने गोल किया.

भारत के बाद दूसरे क्वार्टर में जर्मनी ने भी एक के बाद एक दो गोल किए और टीम 3-1 से आगे निकल गई. हालांकि, भारत के हार्दिक सिंह के बाद हरमनप्रीत सिंह ने पेनाल्टी कार्नर से दो गोल किए और इस तरह हाफ टाइम में भारत ने जर्मनी की बराबरी कर ली.

इसके बाद तीसरे क्वार्टर में भारत ने दमदार शुरुआत की. शुरुआत में ही भारत ने एक के बाद एक दो गोल किए. भारत के लिए इस क्वार्टर में सिमरनजीत सिंह के बाद रुपिंदर पाल सिंह ने गोल किया और बढ़त को 5-3 में बदला.

आज भारत के अहम मुकाबले

कुश्ती :

रवि कुमार (स्वर्ण पदक का मुकाबला), शाम 4:00 बजे के बाद

दीपक पूनिया (कांस्य पदक का मुकाबला), शाम 4:00 बजे के बाद

अंशू मलिक (रेपचेज दौर), सुबह 7:30 बजे के बाद

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: