न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आज है मशहूर अदाकारा रवीना टंडन का जन्मदिन, जाने उनसे जुड़ी बातें ?

पत्थर के फूल जबरदस्त कामयाब फिल्म रही और इसी के साथ रवीना ने खुद को बॉलीवुड में स्थापित कर लिया.

26

NW Desk : आज बॉलीवुड की सफल अभिनेत्री रवीना टंडन 44 साल की हो गई हैं. 26 अक्टूबर, 1974 को मुंबई में जन्मीं रवीना टंडन की गिनती बॉलीवुड की प्रमुख अभिनेत्रियों में होती है. रवीना उस समय कॉलेज में थीं जब उन्हें शांतनू शीरोय से एक फिल्म का प्रस्ताव मिला. बचपन से फिल्मों से लगाव के कारण रवीना ने कॉलेज छोड़ दिया और फिल्म को हाँ कह दिया. रवीना ने सन 1992 में आई फिल्म पत्थर के फूल से बॉलीवुड में अभिनय की शुरुआत की. पत्थर के फूल जबरदस्त कामयाब फिल्म रही और इसी के साथ रवीना ने खुद को बॉलीवुड में स्थापित कर लिया.

इसे भी पढ़ें : एयरसेल-मैक्सिस मनी लॉन्ड्रिंग केस : पी चिदंबरम सहित नौ लोगों के खिलाफ ईडी ने चार्जशीट पेश की

फ्लॉप फिल्म से फिल्मी करियर की शुरुआत

90 के दशक में रवीना ने एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम कर चुकी है. दर्शकों को अपनी मस्त-मस्त अदाओं का दीवाना बनाया. फिल्ममेकर रवि टंडन और वीना टंडन की बेटी रवीना ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत एक फ्लॉप फिल्म से की थी.

इसे भी पढ़ें : लव, मनी और धोखा है सैफ अली खान की फिल्म “BAAZAAR”

ये है उनकी बेहतरीन फिल्में

1991 से 2004 के बीच उन्होंने मोहरा (1994), दिलवाले (1994), लाडला (1994), इम्तिहां (1994), अंदाज अपना अपना (1994), खिलाड़ियों का खिलाड़ी (1996), जिद्दी (1997), अक्स (2001), दमन (2001) जैसी फिल्मों में काम कर चुकी है. 2004 में उन्होंने शादी कर ली. फिर फैमिली और बच्चों की परवरिश में बिजी हो गईं. शादी के बाद भी वह फिल्मों में एक्टिव हैं, इसी साल उनकी फिल्म मातृ रिलीज हुई है.

इसे भी पढ़ें : इरफान फैन्स के लिए खुशखबरी, दीपावली के बाद लौट सकते हैं भारत

1991 से 2004 के बीच उन्होंने मोहरा (1994), दिलवाले (1994), लाडला (1994), इम्तिहां (1994), अंदाज अपना अपना (1994), खिलाड़ियों का खिलाड़ी (1996), जिद्दी (1997), अक्स (2001), दमन (2001) जैसी फिल्मों में काम किया है. 2004 में उन्होंने शादी कर ली और फिर फैमिली और बच्चों की परवरिश में बिजी हो गईं. शादी के बाद भी वह फिल्मों में एक्टिव हैं, इसी साल उनकी फिल्म मातृ रिलीज हुई है.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: