न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी को हराने एक साथ आये चंद्रबाबू व राहुल, कहा भ्रष्टाचार हो रहा है, देश यह जानना चाहता है  

2019 लेाकसभा चुनाव में मोदी को हराने के लिए चंद्रबाबू नायडू व राहुल गांधी एक साथ आ गये हैं.

12

  NewDelhi : 2019 लेाकसभा चुनाव में मोदी को हराने के लिए चंद्रबाबू नायडू व राहुल गांधी एक साथ आ गये हैं. बता दें कि लोकसभा चुनाव से पूर्व साझा मोर्चा बनाने की कवायद में चंद्रबाबू नायडू दिल्ली पहुंचे और  राहुल गांधी और शरद पवार से मुलाकात की. फारूक अब्दुल्ला भी इस मोर्चे के साथ दिखे. खबरों के अनुसार  राहुल गांधी और चंद्रबाबू नायडू के बीच कई मुद्दों पर बातचीत हुई. सूत्रों के अनुसार सीबीआई, आरबीआई और आधार जैसे मुद्दों पर सरकार के विरोध के लिए साझा न्यूनतम कार्यक्रम तय किया गया. बता दें कि मुलाकात के बाद दोनों नेता पत्रकारों के सामने आये और कहा कि भाजपा को हराने के लिए सभी विपक्षी दल मिलकर काम करेंगे. जान लें कि चंद्रबाबू नायडू लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश कर रहे हैं. इस क्रम में राहुल गांधी ने कहा कि पार्टियां यह सुनिश्चित करने की दिशा में काम करेंगी कि लोकतांत्रिक संस्थानों पर हमला बंद हो.  कहा कि सभी पार्टियां राफेल सौदे में भ्रष्टाचार और बेरोजगारी जैसे सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण मुद्दों पर एकसाथ काम करेंगी. राहुल ने साफ कहा कि भ्रष्टाचार हो रहा है. संस्थान जो जांच कर सकते हैं, उन्हें निशाना बनाया जा रहा है. जो सब हुआ उसकी उचित जांच हो, पैसा कहां गया और किसने भ्रष्टाचार किया. राहुल के अनुसार वे इन्हीं चीजों पर ज्यादा जोर दे रहे हैं. कहा कि देश यह जानना चाहता है.

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस में घमासान? राहुल के सामने दिग्विजय और सिंधिया में तू-तू, मैं-मैं

कांग्रेस के साथ हाथ मिलाना लोकतांत्रिक मजबूरी

palamu_12

मीडिया से चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि उन्होंने सभी राजनीतिक दलों के साथ बात की है. हम एक साझे मंच पर मिलेंगे और रणनीतियां तय करेंगे. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि आप उम्मीदवारों में रुचि रखते हैं, हम देश में रुचि रखते हैं. चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि भारतीय लोकतंत्र खतरे में है. कांग्रेस के साथ हाथ मिलाना उनकी लोकतांत्रिक मजबूरी है. कहा कि सीबीआई और आरबीआई जैसी संवैधानिक संस्थाओं पर हमले हो रहे हैं. हमने गैर भाजपा पार्टियों को साथ लेकर एक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम तैयार करने का फैसला किया है. बता दें कि नायडू और राहुल के बीच तेलंगाना विधानसभा चुनाव में सीट साझा करने पर बातचीत चल् रही है. तेलंगाना में विधानसभा चुनाव सात दिसंबर को हैं. इससे पूर्व चंद्रबाबू राकांपा प्रमुख शरद पवार और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला से भी मिले.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: