Lead NewsNationalNEWSTOP SLIDERWest Bengal

टीएमसी सांसद महुआ बोली, राज्यपाल पूरे खानदान व गांव को लेकर आ गये हैं राजभवन

सांसद का आरोप-राज्यपाल ने रिश्तेदारों को ओसडी बनाया

Kolkata: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव पूर्व से जारी आरोप-प्रत्यारोप का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. टीएमसी नेताओं के निशाने पर राज्यपाल जगदीप धनखड़ शुरू से रहे हैं. अब टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने राज्यपाल को निशाने पर लिया है. सांसद ने राज्यपाल को अंकल जी कहकर संबोधित करते हुए कहा है कि- अंकल जी अपने खानदान व पूरे गांव को लेकर राजभवन आ गये हैं.

 

सांसद महुआ मोइत्रा का कहना है कि उनके परिवार के सदस्यों और अन्य परिचितों को राजभवन में विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) नियुक्त किया गया है. सांसद मोइत्रा ने ट्विटर पर बाकायदा सूची जारी की है. जारी सूची में राज्यपाल के ओएसडी अभ्युदय शेखावत, ओएसडी-समन्वय अखिल चौधरी, ओएसडी-प्रशासन रुचि दुबे, ओएसडी-प्रोटोकॉल प्रसांत दीक्षित, ओएसडी-आईटी कौस्तव एस वलिकर और नव-नियुक्त ओएसडी किशन धनखड़ का नाम हैं.

 

advt

जारी सूची में सांसद ने बताया है कि सभी उनके रिश्तेदार या करीबी हैं.  बताया है कि अभ्युदय शेखावत धनखड़ के बहनोई के बेटे हैं. रुचि दुबे उनके पूर्व एडीसी मेजर गोरांग दीक्षित की पत्नी तथा प्रसंत दीक्षित भाई हैं. मोइत्रा ने कहा कि वलिकर, धनखड़ के मौजूदा एडीसी जनार्दन राव के बहनोई हैं जबकि किशन धनखड़ राज्यपाल के एक और करीबी रिश्तेदार हैं।

 

इतना ही नहीं संसाद ने यह भी कहा है कि यदि वह पश्चिम बंगाल की ‘चिंताजनक स्थिति’ सुधर जाएगी अगर आप क्षमा-याचना करके वापस दिल्ली चले जाएं और कोई अन्य नौकरी तलाश लें. मालूम हो कि चुनाव के बाद भाजपा व टीएमसी के बीच जोरदार आरोप प्रत्यारोप चल रहा है.

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: