West Bengal

भाजपाइयों पर टीएमसी कार्यालय में तोड़फोड़ का आरोप, विरोध-प्रदर्शन, इलाके में तनाव

Durgapur : तृणमूल कांग्रेस के कार्यालय में तोड़फोड़ की शिकायत को लेकर रविवार की सुबह से फिर कमलपुर इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है. भाजपा के खिलाफ अत्याचार का आरोप लगाते हुए पार्टी कार्यालय के सामने तृणमूल कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. इसके बाद कमलपुर इलाके में इसी मुद्दे को लेकर तृणमूल कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने जुलूस निकाला.

तृणमूल नेता तापस चंद्र का आरोप है कि उनके महिला कार्यकर्ताओं का अपमान कर कमलपुर में तृणमूल कांग्रेस के पार्टी कार्यालय में भाजपा के आश्रित गुंडों ने तोड़फोड़ किया है. इतना कुछ करने के बाद अब वह लोग ही नाटक शुरू कर दिये हैं.

इधर शनिवार की रात कमलपुर में तृणमूल कांग्रेस के पार्टी कार्यालय को तोड़ देने की घटना को लेकर फैले तनाव के कारण इलाके में नए सिरे से उत्पन्न हुई अशांति पर नियंत्रण पाने के उद्देश्य से इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह : फर्नीचर मिस्त्री के घर के शौचालय में मिली लोडेड पिस्तौल व बम बनाने का कच्चा माल

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

चिंतन बैठक में लहूलुहान हालत में पहुंचा था भाजपा कार्यकर्ता

गौरतलब है कि शनिवार दुर्गापुर में भाजपा का चिंतन बैठक में लहूलुहान अवस्था में एक भाजपा कर्मी जा पहुंचा, उसका आरोप था कि तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने कमलपुर में अत्याचार शुरू कर दिया है, उनके अलावा कई लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए हैं.

भाजपा नेताओं ने साथ ही साथ चिंतन बैठक के सभा स्थल से जख्मी पार्टी कार्यकर्ता को दुर्गापुर महकमा अस्पताल में भर्ती कराया तथा बाद में उसे सिटी सेंटर के एक निजी अस्पताल में लाया गया.

इसे भी पढ़ें : पलामू : खेत में काम कर रहे किसान की वज्रपात से मौत, पांच बकरियां भी मरीं

समीरण माधुरी नामक और एक भाजपा कार्यकर्ता को दुर्गापुर महकमा अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसका आरोप है कि कमलपुर में तृणमूल नेता निखिल नायक के नेतृत्व में पूरी घटना हुई है. भाजपा के कई कार्यकर्ताओं के घरों में तोड़फोड़ की गयी है.

समाचार लिखे जाने तक दोनों पार्टियों की ओर से आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है, जिसके चलते पूरे इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है. हालांकि इलाके में कानून-व्यवस्था को बनाये रखने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है.

इसे भी पढ़ें : नानी के साथ सोयी बच्ची को बोरे में बांधकर ले जा रहा युवक पुलिस के हत्थे चढ़ा

Related Articles

Back to top button