न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

टीपू जयंती पर जंगः बीजेपी ने तेज किया हमला, हिन्दुओं के हत्यारे का श्राद्ध कर रही कांग्रेस

टीपू जयंती समारोह में शामिल नहीं होने पर मुख्यमंत्री ने दी सफाई

60

Bengaluru: कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती को लेकर सियासत गरमायी हुई है. बीजेपी के तीखे विरोध के बीच कुमारस्वामी सरकार 18वीं सदी के मैसूर के शासक टीपू सुल्तान की शनिवार को जयंती मना रही है. वही भाजपा के साथ कई संगठन राज्य सरकार के कार्यक्रमों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

mi banner add

इसे भी पढ़ेंःआदमखोर ‘अवनि’ की मौत पर उठते सवालों के बीच केंद्रीय टीम को जांच का जिम्मा

हिन्दूओं के हत्यारे का श्राद्ध कर रही कांग्रेस- विज

बीजेपी के विरोध प्रदर्शन के बीच, प्रदेश बीजेपी ने सीएम एचडी कुमारस्वामी से पूछा है कि वह जयंती समारोह से संबंधित कार्यक्रम में शामिल क्यों नहीं हो रहे हैं? इधर हरियाणा बीजेपी के नेता और राज्य के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कांग्रेस पर तीखा प्रहार किया है.

इससे पहले शुक्रवार को बीजेपी नेता आर अशोक ने कहा था कि कुमारस्वामी टीपू जयंती में शामिल नहीं होंगे क्योंकि वो इसमें जाना नहीं चाहते. अशोक ने कहा, ‘सब लोग जानते हैं कि जो टीपू जयंती में जो गए उनका क्या हश्र हुआ. विजय माल्या को देश छोड़कर भागना पड़ा. संजय खान का चेहरा झुलस गया और सिद्धारमैया को मैसूर से चुनाव हारना पड़ा.’

इसे भी पढ़ेंःगोमिया बीडीओ के आदेश का उल्लंघन: साढ़े तीन माह बाद भी नहीं जमा की गयी जुर्माने की राशि

Related Posts

राजनाथ सिंह ने कहा, कश्मीर की समस्या का हल होगा,  दुनिया की कोई ताकत इसे रोक नहीं सकती

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर में  कहा कि  राज्य की सभी समस्याएं हल होंगी

कुमारस्वामी ने दी सफाई

इधर बीजेपी के हमलों के बीच मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज पूरे राज्य में टीपू सुल्तान की जयंती मनाई जा रही है. जयंती पर छिड़ी जंग के बीच समारोह में शामिल नहीं होने को लेकर एचडी कुमारस्वामी ने सफाई दी है. उन्होंने कहा, कि डॉक्टरों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है. इसीलिए वो जयंती समारोहों में शामिल नहीं हो रहे हैं. और इसका दूसरा अर्थ निकालने की जरूरत नहीं है.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू-कश्मीरः सेना ने दो आतंकियों को किया ढेर, दो राइफल बरामद

ज्ञात हो कि ‘टीपू जयंती’ पर कर्नाटक सरकार द्वारा आयोजित किए जा रहे समारोह के एक दिन पहले भी इसके खिलाफ भाजपा ने प्रदर्शन किया था. टीपू सुल्तान 18वीं सदी में मैसूर साम्राज्य के शासक थे. पार्टी ने सरकार से जश्न समारोह को रद्द करने की अपील करते हुए बेंगलुरू, मैसूर और कोडागू में विभिन्न स्थानों पर प्रदर्शन किया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: