JharkhandRanchi

ड्राइविंग लाइसेंस बनानेवालों के लिए टाइम स्लॉट बुकिंग बनी समस्या, परेशान हैं आवेदक

Ranchi : राजधानी सहित आसपास के क्षेत्रों में इन दिनों ट्रैफिक पुलिस बड़े पैमाने पर ड्राइविंग लाइसेंस की चेकिंग कर रही है. लाइसेंस नहीं होने पर वाहन चालकों से चालान की बड़ी राशि काटी जा रही है. दूसरी तरफ ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए आवेदन दिये कई युवाओं की शिकायत है कि उनका लाइसेंस नहीं बन पा रहा है.

इसके पीछे का कारण ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए निर्धारित टाइम स्लॉट बुकिंग है. इससे ग्रामीण इलाकों के युवा काफी परेशान हैं. पीड़ित युवाओं का कहना है कि लाइसेंस बनवाने के लिए तय स्लॉट बुकिंग की गलत नीतियों से उन्हें परेशानी हो रही है. इससे ड्राइविंग लाइसेंस बनानेवाले दलालों की चांदी है.

इसे भी पढ़ें : FICCI को नेशनल इंडस्ट्री पार्टनर बनायेगी झारखंड सरकार, सांसद महेश पोद्दार ने कहा- FJCCI की चिंताओं पर काम किये बिना लाभ नहीं

ग्रामीण क्षेत्र से किसी आवेदक की नहीं हो पा रही बुकिंग

राजधानी के लापुंग प्रखंड क्षेत्र के कई ग्रामीणों का आरोप है कि परिवहन विभाग ने स्लॉट बुकिंग के लिए सुबह 11 बजे का समय तय कर रखा है. यह मात्र एक से डेढ़ मिनट का ही है, जो कि बेहद कम है. ग्रामीण क्षेत्र से किसी आवेदक की बुकिंग नहीं हो पा रही है. इससे लाइसेंस के लिए आवेदक अब कैफे के चक्कर काट रहे हैं.

इस कारण दलाल भी सक्रिय हो गये हैं. काम कराने के एवज में ऐसे दलाल एक मोटी रकम भी वसूल रहे हैं. ग्रामीणों का कहना है कि ड्राइविंग टेस्ट देनेवाले दर्जनों आवेदकों को वाहन टेस्ट देना है. लेकिन स्लॉट बुकिंग की गलत नीतियों से उन्हें काफी परेशान हो रही है.

वैसे भी लॉकडाउन के कारण पहले से वाहन चालन टेस्ट का काम रुका था. अब जब यह शुरू हुआ है तो टेस्ट देनेवाले आवेदकों की संख्या बढ़ गयी है. लेकिन टाइम स्लॉट की नीतियों से समस्या और बढ़ गयी है.

इसे भी पढ़ें : पांच साल बाद गिरिडीह पुलिस ने ट्रक चोरी मामले में दूसरे आरोपी को गिरफ्तार किया

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: