JharkhandRanchi

‘राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर’ बना युवा कांग्रेस उजागर करेगी सरकार की मंशा : कुमार गौरव

Ranchi : झारखंड प्रदेश युवा कांग्रेस ने मोदी सरकार पर बेरोजगारी के वास्तविक आंकड़े छुपाने का आरोप लगाया है.

प्रदेश अध्य़क्ष कुमार गौरव ने कहा है कि बेरोजगारी जैसे मुद्दे से आज देश के युवा परेशान हैं, वहीं मोदी सरकार इससे ध्यान हटाने के लिए देश में एनआरसी, सीएए और एनपीआर जैसे मुद्दे ला रही है.

इसी को लेकर कांग्रेस की युवा इकाई ने ‘राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर (एनआरयू) अभियान शुरू किया है. शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष ने इसकी जानकारी दी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

उन्होंने कहा कि अभियान के तहत मिस्ड कॉल के लिए एक टोल फ्री नंबर (8151994411) भी जारी किया गया है. बेरोजगार युवा इस पर मिस कॉल कर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के चाईबासा घटना से मर्माहत होकर कैबिनेट विस्तार टालने की भी सराहना की.

प्रेस वार्ता में भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव दीपक मिश्रा,सोशल मीडिया के संयोजक सह प्रदेश इंचार्ज अभय तिवारी सहित कई नेता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : #Pathalgadi केस वापसी में हेमंत सरकार ने जल्दबाजी की, जांच प्रक्रिया समझ कर निर्णय लेना चाहिए था : सरयू राय

आंकड़ा देकर सरकार पर एनआरयू तैयार करने का दबाव बनायेंगे

कुमार गौरव ने कहा कि देश में बेरोजगारी 45 वर्षों में सबसे ज्यादा है. मोदी सरकार ने 2014 में ही हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था. लेकिन वह इसमें पूरी तरह से फेल हुई है.

अपने पहले कार्यकाल में मोदी सरकार ने 5 करोड़ रोजगार भी छीने हैं. अब मोदी सरकार एनआरसी, सीएए और एनपीआर लाकर देश का माहौल बिगाड़ने पर लगी है.

इसे देखकर ही कांग्रेस ने ‘राष्ट्रीय बेरोजगारी रजिस्टर’ शुरूआत की है. अभियान में मिस्ड कॉल के जरिए बेरोजगार युवा एनआरयू की मांग के प्रति अपना समर्थन देंगे.

कुछ हफ्ते के बाद हमारे पास आए मिस्ड कॉल का आंकड़ा सरकार को देंगे और दबाव बनायेंगे कि वह एनआरयू तैयार करे.

उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि देश को एनआरसी की जरूरत नहीं, बल्कि एनआरयू की जरूरत है. सरकार को यह बताना चाहिए कि उसने 6 वर्षों में कितने युवाओं को नौकरी दी और आगे कैसे बेरोजगारी दूर करेगी.

इसे भी पढ़ें : सांसद आदर्श ग्राम योजना: हर फेज में घटती गयी झारखंडी सांसदों की रुचि, 7 ने ही तीसरे चरण तक चुने गांव

सांप्रदायिक माहौल को खराब करना चाहती है भाजपा :  दीपक मिश्रा

दीपक मिश्रा ने कहा कि बेरोजगारी और मंहगाई आज चरम पर है. अर्थव्यवस्था और जीडीपी गिरी हुई है. देश मंदी के माहौल की तरफ जा रहा है. लेकिन इन सभी मुद्दों से लोगों को भटकाने के लिए मोदी सरकार एनआरसी, सीएए जैसे मुद्दों को ला रही है.

दरअसल इसके पीछे भाजपा की मंशा देश के सांप्रदायिक माहौल को खराब करने की है. लेकिन कांग्रेस चाहती है कि भाजपा अपने मंसूबों को पूरा नहीं कर पाये, इसलिए युवा कांग्रेस की कोशिश रहेगी कि बेरोजगारी के वास्तविक आंकड़े न केवल जनता बल्कि मोदी सरकार के सामने भी पेश किया जाये.

मुख्यमंत्री की सराहना की

इस दौरान प्रदेश अध्य़क्ष ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के उस काम की भी सराहना की, जिसमें उन्होंने कैबिनेट विस्तार टालने की मांग राज्यपाल से की. कहा कि चाईबासा की घटना वाकई मर्माहत करने वाली है.

मुख्यमंत्री ने जैसा निर्णय लिया, उसका युवा कांग्रेस सम्मान करती है. ऐसा काम वैसा ही मुख्यमंत्री कर सकता है, जिसमें आम लोगों के प्रति भावना है.

1932 के खतियान पर स्थानीय नीति बनाने के सवाल पर कुमार गौरव ने कहा कि कैबिनेट विस्तार के बाद यूपीए नेता बैठकर इसपर उचित निर्णय लेंगे.

इसे भी पढ़ें : #SBI में क्लर्क के 8000 पदों पर होगी नियुक्ति, 26 जनवरी तक करें आवेदन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button