न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मदरसे में राष्ट्रगान गाने से बच्चों को रोकने पर मौलाना सहित तीन पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा

स्वतंत्रता दिवस समारोह में महाराजगंज जिले के कोलही इलाके के एक मदरसे में बच्चों को राष्ट्रगान गाने से रोकने का मामला सामने आया है

368

 Lucknow : स्वतंत्रता दिवस समारोह में महाराजगंज जिले के कोलही इलाके के एक मदरसे में बच्चों को राष्ट्रगान गाने से रोकने का मामला सामने आया है. इस मामले में मदरसे के मौलाना सहित तीन लेागों के खिलाफ राष्ट्रदोह का मामला दर्ज किये जाने की खबर है. बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में मदरसा अरबिया अहले सुन्नत के मौलाना जुनैद अंसारी 15 अगस्त पर ध्वजारोहण के बाद बच्चों को राष्ट्रगान गाने से मना कर रहे हैं. यह वीडियो कल जिले में वायरल हुआ. इस खबर के फैलते ही जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने जिला अल्पसंख्यक अधिकारी प्रभात कुमार को इस मामले की जांच करने को कहा.

इसे भी पढ़ेंःराज्य में बाघों की संख्या बन गयी है पहेली, वन विभाग को पता ही नहीं प्रदेश में कितने बाघ हैं

राष्ट्रदोह समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कराने का आदेश

hosp1

जिलाधिकारी ने इस मामले में राष्ट्रदोह समेत अनेक धाराओं में मामला दर्ज कराने का भी आदेश दिया है. पुलिस के अनुसार इस मामले में मीडिया रिपोर्टस के अनुसार कोलही थाना क्षेत्र के मदरसा अरबिया अहले गर्ल्स मलंगडिहवा बडगो में बुधवार को स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम था. जिसमें ध्वजारोहण के बाद मदरसे का मौलाना मोहम्मद जुनैद अंसारी बच्चों और शिक्षकों को राष्ट्रगान गाने से रोकता हुआ दिखाई दे रहा है. वहीं मौजूद एक शिक्षक राष्ट्रगान गाने की बात पर अड़ा रहा. इस घटना के सामने आने के बाद महाराजगंज पुलिस ने मोहम्मद जुनैद अंसारी, मोहम्मद अज़लूर रहमान और मोहम्मद निजाम को गिरफ्तार किया है.

इसे भी पढ़ेंःसालों से अपने ही घर में कैद भाई-बहन को पुलिस ने कराया आजाद, किरायेदार डॉक्टर पर आरोप

11 सरकारी प्राथमिक विद्यालयों को इस्लामिया प्राथमिक स्कूल बना दिया गया

बता दें कि यूपी के देवरिया में पांच सरकारी स्कूलों के नाम के आगे आदर्श इस्लामिया लगा दिया गया है. इसके अलावा यूपी के बलिया और जिलों के क्षेत्रों में स्कूलों के नाम के आगे इस्लामिया लगाने के निर्देश दिये गये हैं. जिलाधिकारी ने यहां के बेसिक शिक्षा अधिकारी श्रवण कुमार गुप्ता को जिले में 11 सरकारी प्राइमरी स्कूलों को इस्लामिया प्राथमिक विद्यालय बनाकर चलाये जाने और उनमें जगह जुमे को साप्ताहिक अवकाश किये जाने की जांच करने का आदेश दिया था.  यह बात प्रकाश में आयी है कि गाजीपुर जिले के मोहम्मदाबाद, भदौरा, सादात और देवकली ब्लॉक में कुल 11 सरकारी प्राथमिक विद्यालयों को इस्लामिया प्राथमिक स्कूल बना दिया गया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: