न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विपक्ष के हमलों से बेखबर तीन राफेल फाइटर प्लेन भारत में उतरे, एयरो इंडिया शो में उड़ान भरेंगे

मोदी सरकार और विपक्ष खास कर राहुल गांधी के बीच राफेल डील को लेकर भले ही दंगल चल रहा हो. खबर है कि इस तकरार के बीच फ्रांस के वायुसेना के तीन राफेल फाइटर प्लेन भारत पहुंच चुके हैं

41

NewDelhi :   मोदी सरकार और विपक्ष खास कर राहुल गांधी के बीच राफेल डील को लेकर भले ही दंगल चल रहा हो. खबर है कि इस तकरार के बीच फ्रांस के वायुसेना के तीन राफेल फाइटर प्लेन भारत पहुंच चुके हैं. बता दें कि बेंगलुरु में एयरो इंडिया शो में भाग लेने के लिए तीन राफेल लड़ाकू विमान भारत में उतर चुके हैं. जानकारी दी गयी है कि इसमें से सिर्फ दो राफेल उड़ान भरेंगे, तीसरा डिस्पले के लिए होगा.  एयरफोर्स के डिप्टी चीफ एयरमार्शल विवेक चौधरी समेत कई टॉप वायुसेना के अधिकारी इस शो के दौरान प्लेन से उड़ान भरेंगे. यह बात जान लें कि यह फ्रांस के वायुसेना का राफेल है, न कि भारत सरकार ने जो सौदा किया है वह विमान है. दरअसल, फ्रांस से राफेल विमान ऐसे समय में भारत के सफर पर आये हें, जब देश में यह मसला गरमाया हुआ है.  समाचार एजेंसी ने इसका वीडियो भी जारी किया है. साथ ही उसने यह जानकारी दी है कि बेंगलुरु में होने वाले एयरो इंडिया शो में भाग लेने के लिए तीन राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंच चुके हैं.

कांग्रेस ने संसद के बाहर राफेल डील को लेकर विरोध प्रदर्शन किया

राज्यसभा में कैग की रिपोर्ट पेश होने से बैकफुट पर रही मोदी सरकार को कांग्रेस पर हमलावर होने का मौका मिल गया है.  दरअसल, राफेल डील पर बुधवार को नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट राज्यसभा में पेश की गयी. रिपोर्ट में कहा गया है कि एनडीए सरकार के दौरान हुआ राफेल लड़ाकू विमान का सौदा पूर्ववर्ती यूपीए सरकार द्वारा की गयी डील की तुलना में सस्ता है. रिपोर्ट के अनुसार  एनडीए सरकार के तहत हुआ राफेल सौदा पूर्ववर्ती यूपीए सरकार के सौदे की तुलना में 2.86 फीसदी सस्ता है. सीएजी रिपोर्ट पेश होने के बाद केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने एक के बाद एक कई ट्वीट किया. उन्होंने कहा, ऐसा नहीं हो सकता कि सुप्रीम कोर्ट भी गलत हो, सीएजी भी गलत हो, सिर्फ परिवार ही सही हो. सत्यमेव जयते. सच्चाई की हमेशा जीत होती है.’ वहीं बुधवार को कांग्रेस ने संसद के बाहर राफेल डील को लेकर विरोध प्रदर्शन किया.

Related Posts

डॉ  कलबुर्गी मर्डर केस  :  एसआईटी के आरोपपत्र में दावा,  हिंदू चरमपंथी संगठन की पुस्तक क्षत्रिय धर्म साधना से प्रेरित थे  आरोपी

एसआईटी के एक बयान के अनुसार इस  मामले के अन्य आरोपियों में अमोल काले, प्रवीण प्रकाश चतुर, वासुदेव भगवान सूर्यवंशी, शरद कालस्कर और अमित रामचंद्र बड्डी भी शामिल हैं. 

SMILE

इसे भी पढ़ें : मोदी विरोधी नेताओं का जुटान शरद पवार के घर, चुनाव पूर्व गठबंधन पर लगी मुहर!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: