न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अग्रवाल सभा की ओर से आयोजित सामूहिक विवाह में तीन जोड़ों ने थामा एक दूसरे का हाथ

75

Ranchi :  अग्रवाल सभा की ओर से 25 वें सामूहिक विवाह का आयोजन सोमवार को किया गया. विवाह समारोह में तीन जोड़ों का विवाह अग्रसेन भवन में संपन्न कराया गया. वैवाहिक समारोह दो दिवसीय था. जिसमें रविवार को वर और वधू दोनों पक्षों के लिए अलग अलग हल्दी रस्म की तैयारी की गयी थी. वहीं सोमवार को सुबह से ही समारोह शुरू हो गया था. जिसमें हल्दी के बाद वर और वधू पक्ष के लिये अलग अलग बाण, चाक भात रस्म की गयी. संध्या चार बजे कोरथ की रस्म अदा की गयी. जिसके बाद वरमाला, फेरा समेत अन्य वैवाहिक रस्म पूरे किये गये.

अध्यक्ष पवन पोद्दार ने बताया कि अग्रवाल सभा की ओर से प्रत्येक साल सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाता है. इस वर्ष समारोह में न सिर्फ अग्रवाल सभा बल्कि पूरे मारवाड़ी समुदाय को शामिल किया गया है.

इसे भी पढ़ें – राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने रघुवर सरकार को घेरा, ट्वीट कर कहा, सस्ती बिजली छोड़ ले रहे महंगी बिजली

वर पक्ष की निकाली गयी बारात

संध्या 6 बजे अग्रसेन भवन से लेकर लक्ष्मीनारायण मंदिर तक बारात निकाली गयी. प्रत्येक वर के लिये अलग अलग सुसज्जित वाहन थे. मंत्री कौशल राजगढ़िया ने जानकारी दी कि नियमानुसार तीन बारात नहीं निकाली जा सकती. इसलिए तुलसी विवाह होने के कारण एक सुसज्जित कार तुलसी विवाह के लिए निकाली गयी.

इसे भी पढ़ें – पारा शिक्षकों का अब जल भरो आंदोलन होगा शुरू

महिलाओं ने किया तुलसी विवाह

मारवाड़ी समाज की महिलाओं ने इस दौरान सामूहिक तुलसी विवाह भी किया. बारात निकलने के पूर्व महिलाओं ने तुलसी विवाह किया. जिसमें तुलसी के पौधे के चारों ओर रंगोली बना, उसे सुसज्जित कर महिलाओं ने पूजा की. विवाह पंडित श्‍याम सुंदर के निर्देश में संपन्न हुआ.

इसे भी पढ़ें – खुले मैदान व तालाब को बचाने उतरे हरमू हाउसिंग कॉलोनी के लोग

दैनिक उपयोगी वस्तुएं दी गयी

सभा की ओर से जोड़ों को दैनिक उपयोगी वस्तुएं दी गयी. जिसमें स्टील का अलमीरा, सीलाई मशीन, चौकी, बरतन सेट, चांदी का ज्वेलरी सेट, चांदी के सिक्के, हाथ घड़ी समेत अन्य सामान दिए गये. सभा क ओर से ही वर वधु को विवाह के लिये वस्त्र दिये गये थे,  जिसमें विवाह संपन्न हुआ.

इसे भी पढ़ें – पोटका विधायक मेनका सरदार को उत्कृष्ट विधायक का सम्मान

इनका रहा योगदान

सामूहिक विवाह संपन्न कराने में मुख्य संरक्षक भागचंद पोद्दार, पवन पोद्दार, कौशल राजगढ़िया, अन्नु पोद्दार, आरके चौधरी, सज्जन पांडिया, विजय खोवाल, ललीत पोद्दार समेत अन्य का योगदान रहा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: