न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लोकसभा के बाद राज्यसभा से तीन तलाक बिल पास, समर्थन में 99 और विरोध में 84 वोट पड़े

1,963

Ranchi:  लोकसभा से गुरुवार को तीन तलाक बिल पास होन के बाद मंगलवार को राज्यसभा में बिल पास हो गया. बिल के समर्थन में 99, विरोध में 84 वोट पड़े. इससे पहले बिल पर चर्चा के लिए चार घंटे का समय तय किया गया है. बिल को लेकर बीजेपी ने अपने सांसदों को व्हिप जारी किया है.

यह जदयू और एआईएडीएमके के वॉकआउट के बाद संभव हो पाया है. जदयू और एआइएडीएमके के सदन से वॉकआउट के बाद राज्यसभा में सदस्यों की संख्या 213 रह गयी. ऐसे में अब बहुमत के लिए 109 वोट चाहिएं थी. इससे पहले विपक्ष के विरोध के बावजूद लोकसभा में ये बिल आसानी से पास हो गया था. हालांकि लोकसभा में जेडीयू ने वोटिंग नहीं की थी.

इसे भी पढ़ेंः जमशेदपुर : टाटा मोटर्स समेत 25 उद्योगों में गहराया संकट, 30 हजार लोगों के सामने रोजी-रोटी का सवाल

इन दलों ने किया विरोध

कांग्रेस, डीएमके, एनसीपी समेत कई विपक्षी दलों ने इसका विरोध किया. जबकि टीएमसी और सरकार की सहयोगी जेडीयू ने वोटिंग से पहले सदन से वॉक आउट कर दिया. यह बिल पिछली लोकसभा से पास हो चुका था, लेकिन राज्यसभा से इस बिल को वापस कर दिया गया था.

इसे भी पढ़ेंः कुत्तों को बचाने की बात करनेवाला पशुप्रेमी तो गाय बचानेवाला कट्टर क्यों : महेश पोद्दार  

Related Posts

मुख्य सचिव ने समीक्षा बैठक की, कहा, राजस्व वसूली में कोताही बर्दाश्त नहीं होगी

मुख्य सचिव ने कहा कि इसमें कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि राजस्व उगाही में रुकावटों को दूर करने के लिए विभाग नई सोच के साथ पहल करें और एक्शन लें.

ओवैसी के संशोधन को किया खारिज

16वीं लोकसभा का कार्यकाल खत्म होने के बाद इस लोकसभा में सरकार कुछ बदलावों के साथ फिर से बिल को लेकर आयी. इस बिल को राज्यसभा से पारित कराने की चुनौती सरकार के सामने थी. लोकसभा में बिल को विचार के लिए पेश करने के पक्ष में 303 और विपक्ष में 82 वोट पड़े थे.

इसके बाद बिल में प्रस्तावित संशोधनों पर वोटिंग हुई और AIMIM नेता और सांसद असदुद्दीन ओवैसी की ओर से लाये गये संशोधन को सदन ने खारिज कर दिया था. ओवैसी की ओर से दिये गये दूसरे संशोधन को भी सदन ने खारिज कर दिया था.

इसे भी पढ़ेंः खुलासाः जमीन पर दावेदारी को लेकर हुई थी बीजेपी नेता मागो मुंडा सहित तीन की हत्या, चार गिरफ्तार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: