न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तीन तलाक बिल पेश नहीं हो सका, राज्यसभा दो जनवरी तक के लिए स्थगित

राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे की वजह से सोमवार को तीन तलाक बिल पेश नहीं किया जा सका. बता दें कि इसके बाद राज्यसभा दो जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी गयी.

29

NewDelhi : राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे की वजह से सोमवार को तीन तलाक बिल पेश नहीं किया जा सका. बता दें कि इसके बाद राज्यसभा दो जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी गयी.सोमवार को विपक्ष के हंगामे की वजह से पहली बार कार्यवाही  दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी थी. दो बजे के बाद  फिर कार्यवाही शुरू हुई, लेकिन इस बार भी विपक्ष ने जोरदार हंगामा शुरू कर दिया.  अंतत: राज्यसभा 2 जनवरी तक के लिए स्थगित कर दी गयी. भाजपा विरोधी दल पूर्व से ही तीन तलाक बिल को लेकर विरोध जता रहे हैं.  कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दल इसे प्रवर समिति के पास भेजने की मांग कर रहे हैं. खबरों के अनुसार सदन की कार्यवाही शुरू होने से पहले एक ओर कांग्रेस ने अपने सांसदों की बैठक बुलाई, वहीं दूसरी ओर पीएम मोदी की अध्यक्षता में भी राजग की बैठक हुई; बता दें कि तीन तलाक विधेयक को  गुरुवार को विपक्ष के बहिर्गमन के बीच लोकसभा द्वारा मंजूरी दी जा चुकी है.  विधेयक के पक्ष में 245, विपक्ष में 11 वोट पड़े थे. बता दें कि राज्यसभा में भाजपा के नेतृत़्व वाले राजग के पास पर्याप्त संख्याबल नहीं है.

तीन तलाक बिल प्रवर समिति में भेजे बिना पास नहीं होना चाहिए

संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान राज्यसभा की कार्यवाही लगातार बाधित रहने के लिए विपक्षी दलों ने सत्तापक्ष को दोषी ठहराया है.  राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद की अध्यक्षता में सोमवार को विपक्षी दलों के नेताओं की बैठक में कार्यवाही बाधित करने को लेकर सदन में स्थिति स्पष्ट करने पर चर्चा की गयी.  सरकार द्वारा उच्च सदन में पेश किये जाने वाले तीन तलाक संबंधी विधेयक पर विपक्ष की रणनीति तय करने के लिए हुई बैठक में तृणमूल कांग्रेस सदस्य डेरेक ओ ब्रायन, सपा के रामगोपाल यादव, राजद के मनोज झा और आप के संजय सिंह सहित अन्य दलों के नेताओं ने हिस्सा लिया. गुलाम नबी आजाद ने कहा कि यह एक ऐसा बिल है जो करोड़ों लोगों के जीवन को प्रभावित करेगा। ऐसे बिल को प्रवर समिति में भेजे बिना पास नहीं होना चाहिए.  तीन तलाक बिल को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में भी बैठक हुई.  बैठक में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: