NEWS

हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने कब्र से निकाला शव, दो सगे भाई गिरफ्तार 

Palamu. पलामू जिले के नावाबाजार थाना क्षेत्र के खुटही जंगल में कब्र से निकाले गए गुड्डी देवी नामक महिला के शव मामले की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. पुलिस ने इस सिलसिले में गुड्डी के जीजा और उसके भाई को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. गिरफ्तार आरोपी सोहदाग काला पंचायत के कुंभी कला निवासी राजदेव भूईयां व सूर्यदेव भुइयां को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

रविवार को खुटही जंगल में दो दिन पूर्व दफनाए गए गुड्डी देवी का शव नावाबाजार पुलिस ने बरामद किया था. इस संबंध में कांड संख्या 73/20 धारा 302, 201, 120 बी भादवी के तहत मामला दर्ज कराया गया था. नावा बाजार थाना प्रभारी बासुदेव मुंडा ने बताया कि इस कांड के दो आरोपी दोनों सगे भाई राजदेव भूइयां व सूर्यदेव भुइयां को सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

इसे भी पढ़ें- एम्बुलेंस सेल को 24 घंटे कार्यरत रहने का निर्देश, होम आइसोलेशन के लिए जरूरी होगी अनुमति

advt

थाना प्रभारी ने कहा कि गुड्डी देवी की मौत संदेहास्पद स्थिति में हुई थी. शुक्रवार को उसके शव को दफना दिया गया था. मामला सामने आने पर नावाबाजार के बीडीओ सह दंडाधिकारी जहूर आलम और पुलिस इंस्पेक्टर राजबल्लभ पासवान की मौजूदगी में शव को कब्र से बाहर निकाला गया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया. मेदिनीनगर में शव का पोस्टमार्टम नहीं होने पर उसे रांची रिम्स भेजा गया है. 

हत्या कर दफनाया था शव

शव छुपाकर दफना देने के जुर्म में राजदेव भूइयां व सूर्यदेव भुइयां को हिरासत में लिया गया था. पूछताछ के दौरान दोनों ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार की. थाना प्रभारी ने बताया कि गुड्डी देवी अपने पति के छोड़ इधर-उधर भटक रही थी. यह उसके जीजा सूर्यदेव भुइयां को अच्छा नहीं लगता था. इसी कारण सूर्यदेव अपने दामाद निरंजन भुइयां के साथ मिलकर शुक्रवार की रात्रि में गुड्डी देवी की हत्या कर दी और साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से अपने बड़े भाई राजदेव भुइयां के साथ मिलकर महिला के शव को खुटही जंगल में जमीन में दफन कर दिया गया था.

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button