न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शराब दुकान के सेल्समैन की हत्याकांड में तीन आरोपी गिरफ्तार, पिस्टल और दो जिंदा कारतूस भी बरामद

पुलिस ने छापेमारी करके 12 घंटे के अंदर ही हत्या के 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

142

Dhanbad : झरिया के फुसबंगला के समीप अवैध शराब दुकान में सरकारी शराब दुकान के सेल्समैन भोला सिंह की शनिवार रात अज्ञात अपराधियों ने हत्या कर दी थी. इस हत्या की गुत्थी को झरिया पुलिस ने सुलझा लिया है. पुलिस ने छापेमारी करके 12 घंटे के अंदर ही हत्या के 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. दरअसल इस हत्या मामले में चार आरोपी हैं. लेकिन फिलहाल तीन की गिरफ्तारी हुई है और चौथा आरोपी फरार है. जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. पुलिस ने गिरफ्तार किये गये तीन आरोपियों में से दो का नाम सार्वजनिक किया है. जबकि एक आरोपी की पहचान मीडिया के सामने सार्वजनिक नहीं किया है.

आरोपियों को पुलिस ने झरिया के भागा 16 नंबर निवासी अमित सिंह व उसके साथी शालीमार निवासी संदीप यादव के अलावा एक अन्य को लोदना तिलाइबनी से गिरफ्तार कर लिया. इसके अलावा पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गयी पिस्टल व दो जिंदा कारतूस भी बरामद कर लिया है. फुसबंगला में जिस अवैध शराब दुकान में भोला सिंह को गोली मारी गई थी, उसके संचालक नारायण मेहता को भी पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. नारायण के अलावा फुसबंगला के अवैध शराब दुकानदारों रामचंद्र, संटू समेत कई लोगों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

इसे भी पढ़ें – सीडीओ से हटाये गये प्रमोद कुमार, क्षेत्रीय मुख्य अभियंता हीरा लाल को मुख्य अभियंता का मिला अतिरिक्त…

अमित की भोला से दुश्मनी चल रही थी

शुरूआती जांच में पता चला है कि अमित व उसके सहयोगी अवैध शराब दुकानों में पुलिस व उत्पाद विभाग की छापेमारी की वजह से भोला से नाराज थे. उन्हें लगता था कि भोला ही अवैध शराब दुकानों में छापेमारी कराता है. इसी को लेकर अमित की भोला से दुश्मनी चल रही थी. पुलिस को सूचना मिली थी कि तीनों आरोपी भागा चार नंबर में अपने एक परिचित के यहां छिपे हैं. छापेमारी की भनक मिलते ही अमित व संदीप दोनों वहां से भाग निकले. लेकिन पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि सभी आरोपी लोदना तिलाइबनी के समीप हैं और पुलिस ने छापेमारी कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया.

इसे भी पढ़ें – सरकारी भवन पर लगे पोस्टर, बैनर, स्लोगन को आज शाम 5 बजे तक हटायें : उपायुक्‍त

घटनास्थल से पिस्टल लहराते निकला था अमित

इस हत्याकांड के छानबीन के लिए पुलिस रविवार को ही नारायण को अपने साथ लेकर उसके अवैध शराब दुकान पर छानबीन के लिए पहुंची थी. छानबीन में पुलिस को कारतूस का खोखा मिला. पूछताछ में पुलिस ने बताया कि भोला दुकान में आया था और उसी दौरान अमित भी पहुंच गया. दुकान की गेट के पास ही दोनों खड़े थे. उसी दौरान दोनों के बीच दो-तीन मिनट बहस हुई और फिर अचानक बात बढ़ गई. अमित ने पिस्टल निकाला और भोला को गोली मार दी और पिस्टल लहराते हुए मौके से फरार हो गया.

इसे भी पढ़ें – देश के 30 सर्वाधिक नक्सल प्रभावित जिलों में 13 जिले झारखंड के

तीन दिनों से पिस्टल लहरा रहा था अमित

अमित अवैध शराब बेचने, जुआ अड्डा का संचालन समेत कई अवैध धंधे में शामिल है. स्थानीय लोगों ने बताया कि अमित पिछले दो दिनों से भागा-फुसबंगला में खुलेआम पिस्टल लेकर चल रहा था. इसके अलावा दो दिन पहले भी भागा के राजा नाम के युवक को भी पिस्टल दिखाकर अमित ने धमकी दी थी. अमित कई लोगों से जुआ अड्डों पर मारपीट भी कर चुका है. वह जुआ अड्डों पर जुआरियों से पैसे मांगता था और नहीं देने पर धमकी दिया करता था. कुछ महीने पहले वह निजी आउटसोर्सिंग में काम करता था. लेकिन अपनी आदत की वजह से वहां से भी उसे निकाल दिया गया था.

इसे भी पढ़ें – मुंबई में बजा सायरन, बेरमो में एटीएम तोड़ने आये अपराधियों को भागना पड़ा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: