DhanbadJharkhand

गैस रिसाव से दहशत में झरिया वासी, हजार की आबादी को खतरा

Dhanbad : जिले के बीसीसीएल पूर्वी झरिया क्षेत्र के भौंरा बारह नंबर में गैस निकलने से हड़कंप मच गया. 40 घरों रहने वाले परिवारों पर हर समय मौत का खतरा मंडरा रहा है. यहां लगभग एक हजार की आबादी रहती है. जो कि गैस के रिसाव से खौफजदा नजर आ रही है. जिला प्रशासन और बीसीसीएल भी इस मामले में कुछ खास गंभीरता नहीं दिखा रही है.

यहां रहने वाले लोगों में अफरा तफरी मची है. वहीं खबर पाकर बीसीसीएल के कई अधिकारी पहुंचे. नक्शे का अवलोकन किया गया, जहां पर गैस रिसाव हो रहा था. लोगों ने बताया कि सोमवार की देर रात जोरदार आवाज हुई और इसके बाद गैस रिसाव होने लगा. वहीं, प्रबंधन का कहना है कि पूरा क्षेत्र आग की जद में है. भूमिगत आग ऊपर बस्ती तक पहुंच गई है.

इसे भी पढ़ेंःबाबा राइस मिल के मजदूर की लाठी डंडे से पीट-पीटकर हत्या

Catalyst IAS
ram janam hospital

ग्रामीणों का जीना मुश्किल

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

भौंरा बारह नंबर इलाके में भारी मात्रा में गैस रिसाव के कारण यहांं रह रहे लोगो को सांस लेने में काफी परेशानी हो रही है. यहां रह रहे लोगों की जान खतरे में है. भारी मात्रा में गैस रिसाव से कई लोगो को सिर दर्द, चक्कर और उल्टियां भी हुई. जहरीले गैस की चपेट में आने से कई लोगों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.

इसे भी पढ़ेंः पलामू: प्रत्याशियों की किस्मत वज्रगृह में सील, 23 को आयेंगे नतीजे 

सुरक्षित स्थान पर पुनर्वास की मांग 

इस घटना को लेकर ग्रामीणों की मांग है कि उन्हें बीसीसीएल किसी सुरक्षित स्थान पर पुनर्वास करे. जहां पानी बिजली और रोजगार की व्यवस्था हो. ग्रामीणों का कहना है कि घटना घटने के बाद बीसीसीएल रेस होती है और आनन-फानन में बंजर जगहों पर ग्रामीणों को विस्थापित कर देती है. जहां किसी प्रकार की कोई सुविधा नहीं होती.

गौरतलब है कि कोयलांचल के कई क्षेत्रों में भू-धंसान और गैस रिसाव की घटना होती रही है. लेकिन बीसीसीएल प्रबंधन गंभीर नहीं दिखता. जबकि जहरीली गैस रिसाव लोगों को गम्भीर बीमारियां देने के साथ जानलेवा भी है.

Related Articles

Back to top button