न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेवानिवृत्त जस्टिस जे चेलामेश्वर के बेटे को फोन पर गिरफ्तार करने की धमकी?  जस्टिस ने पुलिस में शिकायत की

रिटायर्ड  जस्टिस ने कहा है कि खुद को असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस बताने वाले एक शख्स ने उनके बेटे को गिरफ्तार करने की धमकी दी.

25

Hyderabad  :  SC से इस साल 22 जून को सेवानिवृत्त हुए जस्टिस जे चेलामेश्वर के बेटे को गिरफ्तार करने की धमकी फोन पर दी गयी. इस संबंध में जे चेलामेश्वर ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई है. रिटायर्ड  जस्टिस ने कहा है कि खुद को असिस्टेंट कमिश्नर ऑफ पुलिस बताने वाले एक शख्स ने उनके बेटे को गिरफ्तार करने की धमकी दी.  इस क्रम में चेलामेश्वर ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि फोन करने वाले ने अपना परिचय मधापुर एसीपी शिव कुमार के रूप में दिया. रिटायर्ड जस्टिस का कहना था कि मंगलवार को उस शख्स ने उनके बेटे जस्ती रामगोपाल के घर फोन कर दावा किया कि उनके खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी हुआ है.  फोन करने वाले ने यह भी कहा कि पुलिस अफसरों की एक टीम उसे गिरफ्तार करने के लिए उनके गचिबोली स्थित  आवास पहुंच रही है.  रिटायर्ड जज के अनुसार उनकी बहू ने इस फोन कॉल का जवाब दिया.  बहू ने फोन करने वाले को कहा कि वह जस्टिस चेलामेश्वर के तीसरे बेटे जस्ती लक्ष्मीनारायण को कॉल करें.  लक्ष्मीनारायण और रामगोपाल का घर आसपास ही है.  जस्टिस चेलामेश्वर ने कहा कि जब उनके बेटे ने उन्हें इस कॉल की जानकारी दी तो उन्होंने एक सीनियर पुलिस अफसर को फोन कर जानकारी दी.  इसके बाद, फोन करने वाले के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए कुछ सीनियर अफसरों को भेजा गया.

इसे भी पढ़ें : राफेल डील की सुनवाई में SC ने कहा,  रक्षा मंत्रालय नहीं, एयरफोर्स का अधिकारी पक्ष रखे

मधापुर पुलिस स्टेशन के पुलिसकर्मी मेरे बेटे के नाम और पते की पुष्टि करने आये

silk_park

उन्होंने कहा, मधापुर पुलिस स्टेशन के कुछ कर्मी मेरे बेटे के नाम और पते की पुष्टि करने आये.  जानकारी मिली कि फोन करने वाला तमिलनाडु का एक पुलिस अफसर है लेकिन उसने अपनी पहचान मधापुर एसीपी के रूप में दी.  चेलामेश्वर ने बताया कि अरेस्ट वॉरंट तमिलनाडु के रहने वाले किसी विनय कृष्ण नाम के एक शख्स के खिलाफ जारी हुआ था, जिसने गलत पता दे दिया था.  रिटायर्ड जज ने कहा हैदराबाद के पुलिस अफसरों ने फोन करने वाले अफसर को फोन कर सफाई मांगी.  उसे अपनी गलती का एहसास हो गया.  अब वह मेरे कॉल्स का जवाब नहीं दे रहा. लेकिन  हमने इस गैरजरूरी उत्पीड़न के लिए उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.  इस संबंध में मधापुर के डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस विश्वा प्रसाद का कहना था कि पुलिस को जस्ती लक्ष्मीनारायण की ओर से एक शिकायत मिली है.  इस संबंध में कार्रवाई की जा रही है. बता दें कि जस्टिस चेलामेश्वर उस वक्त सुर्खियों में आये थे जब उन्होंने तत्कालीन सीजेआई जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए तीन अन्य जजों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: