ChatraJharkhand

झारखंड में बहू बेटियों की आबरू खतरे में, पुलिस सिस्टम ध्वस्तः दीपक प्रकाश

Chatra: दो दिवसीय प्रवास पर चतरा पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने एक बार फिर हेमंत सरकार पर तीखा हमला बोला. उन्होंने कहा कि प्रदेश में उत्पन्न विधि व्यवस्था की समस्याओं को ले राज्य सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन कर संवैधानिक ढांचे को खत्म करने का प्रयास किया है. हेमंत सरकार में किसी भी सांसद विधायक की बात नहीं सुनी जा रही है.

इसे भी पढ़ें- सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी अनामिका गौतम से जुड़ी एलोकेसी धाम की जमीन मामले में हाइकोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा

श्री प्रकाश ने कहा कि सत्ताधारी दलों के सांसदों और विधायकों का भी यही हाल है वे असहाय हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में प्रशासनिक व्यवस्था पूरी तरह से पस्त हो चुकी है. स्थिति भयावह है, भय के वातावरण में राज्य की सवा तीन करोड़ जनता जीने को विवश हैं. हेमंत सरकार के अल्प कार्यकाल में प्रदेश में नक्सली खुलेआम तांडव मचा रहे हैं. पूरी तरह से जंगल राज स्थापित हो चुका है. बावजूद हेमंत सरकार प्रशासनिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के बजाय बिचौलिया प्रधान राज्य बन चुके झारखंड में पैसे लेकर ट्रांसफर-पोस्टिंग का उद्योग चला रही है.

इसे भी पढ़ें-आत्मनिर्भर हॉकी ट्रेनिंग सेंटर से तैयार होगी ह़ॉकी की नयी पौध

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि यही कारण है कि आज प्रदेश में आदिवासी व अनुसूचित जाति की बहन बेटियों के साथ बलात्कार की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. 1 साल में 13सौ से अधिक बहन बेटियों के साथ बेलगाम दरिंदों बलात्कार की घटनाओं को अंजाम दिया है. उन्होंने कहा कि राज्य में आदिवासियों का नरसंहार हो रहा है. आदिवासियों और अनुसूचित जाति, जनजाति के विकास के नाम पर वोट हासिल कर सत्ता पर काबिज होने वाली हेमंत सरकार आदिवासी व अनुसूचित जाति, जनजाति विरोधी है.

 

Related Articles

Back to top button