ChhathRamgarh

रामगढ़ में छठ महापर्व को लेकर दामोदर घाटी और बिजुलिया तालाब में हजारों की उमड़ी भीड़ 

Ramgarh: लोक आस्था के चार दिवसीय छठ महापर्व के तीसरे दिन छठव्रतियों ने अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया है. वहीं कल सोमवार की सुबह को छठवर्ती सूर्योदय को अर्घ्य देंगे. छठ महापर्व के तीसरे दिन अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ देने के लिए छठ घाटों पर हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी. रामगढ़ शहर और कोयलांचल के छठ घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ और छठ समितियों द्वारा की गई सजावट देखने लायक बन रही थी. वहीं शहर के विभिन्न स्थानों पर भगवान सूर्य की भव्य और आकर्षक प्रतिमा स्थापित की गई थी. जिसकी विधिवत रूप से पूजा अर्चना की गई. वहीं शहर के मुख्य दामोदर नदी छठ घाट पर अस्ताचलगामी सूर्य को हजारों लोगों ने अर्घ्य अर्पित किया. छठ पूजा महासमिति थाना चौक द्वारा छठ के मौके पर भव्य सजावट की गई.जिसकी विधिवत रूप से उद्घाटन गिरिडीह सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने फीता काटकर किया. वहीं दामोदर नदी छठ घाट पर शाम 3:00 बजे के बाद भीड़ उमड़ने लगी. देखते ही देखते दामोदर नदी छठ घाट पर हजारों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी. वहीं शहर के दूसरे बड़े छठ घाट बिजुलिया तालाव में भी शाम होते ही भारी भीड़ उमड़ पड़ी. वही रामगढ़ की विधायक ममता देवी शहर एवं विभिन्न क्षेत्रों के छठ घाटों का दौरा कर छठव्रतियों से मुलाकात किया. विधायक ममता देवी ने रामगढ़ दामोदर नदी छठ घाट पहुंचकर छठव्रतियों से मुलाकात किया.

इसे भी पढ़ें: देवघर में हर्षोल्लास और उत्साहपूर्वक अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को दिया गया अर्घ्य,तत्पर नजर आया प्रशासन और स्वयंसेवी संस्था 

वही छठ महापर्व को देखते हुए रामगढ़ जिला प्रशासन द्वारा शहर में बड़े वाहनों को नो एंट्री कर दी गई थी. वही छठ घाटों पर सुरक्षा के व्यापक तैयारी की गई थी. रामगढ़ के बिजुलिया तालाब और दामोदर नदी छठ घाट पर सुरक्षा के व्यापक तैयारी किए गए थे. दोनों स्थानों पर नाव और गोताखोरों की व्यवस्था की गई थी. वही छठ घाटों पर बड़े पैमाने पर पुलिस अधिकारी और कर्मियों की तैनाती की गई थी. जिससे कि छठ घाटों और छठ घाटों के पहुंच मार्ग पर जाम की स्थिति बनती नहीं दिखी.

वही छठ महापर्व को देखते हुए सामाजिक संगठनों एवं स्थानीय समितियों ने भी जोरदार तैयारी की . वही धरके थाना चौक में छठ पूजा महासमिति थाना चौक,लायंस क्लब ऑफ रामगढ़ कैंट,रोटरी क्लब ऑफ रामगढ़,रामगढ़ थाना पुलिस सहित कई अन्य संगठनों द्वारा छठ कर्मियों के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी. छठ व्रतियों के लिए दूध की व्यवस्था की गई थी। वहीं सामाजिक संगठनों द्वारा चाय और बिस्कुट की व्यवस्था की गई थी.

Related Articles

Back to top button