न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जिनपर है भ्रष्टचार में लिप्त होने का आरोप, उन्हींं को पार्टी में जगह देने की मची है होड़

विपक्ष ने लगाया आरोप “भ्रष्टाचार में लिप्त नेताओं के शरणस्थली बन चुकी है भाजपा”

156
   भाजपा ने कहा : पार्टी में नेताओं का शामिल होना एक सतत प्रक्रिया,  नहीं है लोकसभा चुनाव का हिस्सा

Ranchi :  लोकसभा चुनाव से पहले ही केंद्रीय पार्टियां विभिन्न दलों के नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करने की कोशिश करने लगे है. शामिल होने वाले नेता दरअसल ऐसा कर अपने राजनीतिक भविष्य को बचाने की कोशिश में हैं. वहीं इसे भाजपा को सत्ता में आने से रोकने की एक प्रक्रिया बतायी जा रही है. हालांकि इन गतिविधियों से कहा यह भी जा रहा है कि ऐसा कर इन पार्टियों में नैतिकता नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है. अब भ्रष्टाचार में लिप्त कई नेताओं को पार्टियों में शामिल करने की होड़ मची है, ताकि उन्हें सत्ता मिल सके. इस कड़ी में कांग्रेस ने चुनाव पूर्व भ्रष्टाचार में आरोपी साबित हुए पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की पत्नी और जय भारत समानता पार्टी की जगन्नाथपुर विधायक गीता कोड़ा को पार्टी में शामिल कर इसकी शुरूआत कर दी. इससे कांग्रेस ने चाईबासा सीट पर चुनाव लड़ने की इच्छा जता चुके विपक्षी महागठबंधन के बड़े दल झामुमो को बड़ा झटका दिया है.

वहीं कभी झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन के करीबी रहे और सांसद रिश्वत कांड में नाम आने वाले सूरज मंडल ने गत रविवार को भाजपा की सदस्यता ले ली. कांग्रेस के एक नेता ने कहा है कि गीता कोड़ा को कांग्रेस और सूरज मंडल को भाजपा में शामिल इन पार्टियों ने यह साबित कर दिया है कि चुनाव पहले इन दो बड़ी पार्टियों के बीच नैतिकता नाम की कोई चीज नहीं बची है. वहीं विपक्षी महागठबंधन के सबसे बड़ी पार्टी झामुमो ने तो ढुल्‍लू महतो और सूरज मंडल के बहाने भाजपा पर भ्रष्टाचार में शामिल होने की बात कही है. तो इसके उलट भाजपा प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर का कहना है कि झामुमो को यह देखना चाहिए कि उनके कई विधायकों को कोर्ट के द्वारा सदस्यता रद्द किया जा चुका है. जहां तक पार्टी में नये लोगों के शामिल होने का सवाल है. तो यह पार्टी की एक सतत प्रक्रिया है. विपक्षी दलों का तो यहां तक कहना है कि कभी सुशासन की बात करने वाली भाजपा अब भ्रष्टाचार में लिप्त रह चुके नेताओं की शरणस्थली बनती जा रही है.

इसे भी पढ़ें –देवघर भूमि घोटाला: दो तरफा घिर सकते हैं वरीय IAS अफसर, चलेगी डिपार्टमेंटल प्रोसीडिंग, सीओ सिद्धार्थ…

भ्रष्ट नेताओं की संरक्षण स्थल बन गयी है भाजपा : कांग्रेस

झामुमो प्रमुख शिबू सोरेन के करीबी सहयोगी रहे सूरज मंडल के भाजपा में शामिल होने पर कांग्रेस ने भाजपा पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाया है. कांग्रेस ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले नैतिकता की बात करने वाली भाजपा ने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार का झूठा आरोप लगाया था, आज वहीं भाजपा पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त हो चूकी है. उसे अब सत्ता गंवाने का डर सताने लगा है. सत्ता में आने के लिए भाजपा केवल उन्हीं नेताओं को तोड़-मरोड़ कर पार्टी में शामिल कर रही है, जो पहले से ही भ्रष्टाचार में लिप्त है. ऐसे में अब भाजपा पूरी तरह से भ्रष्टाचार नेताओं की शरणस्थली बन गयी है.

इसे भी पढ़ें –हेमंत सोरेन ना राहुल गांधी से मिले और ना ही लोकसभा चुनाव के लिए सीट शेयरिंग पर हुई कोई बात : जेएमएम

बीजेपी में नैतिकता नहीं है बची  : सुप्रियो भट्टाचार्य

झामुमो प्रवक्ता और महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त नेताओं को पार्टी में शामिल करने का यह भाजपा का कोई नया चेहरा नहीं है. इससे पहले भी भाजपा ने बाघमारा विधायक ढुल्‍लू महतो को जेवीएम से तोड़कर शामिल किया था. जेवीएम में रहते भाजपा ने ढुल्‍लू महतो पर कई तरह का आरोप लगा चूकी है. अब वहीं बाघमारा विधायक अब भाजपा के लिए प्यारा हो गये हैं. हकीकत यह है कि ढुल्‍लू महतो, सूरज मंडल जैसे भ्रष्ट नेताओं को शामिल कर भाजपा ने यह साबित कर दिया है कि अब उसमें किसी तरह की कोई नैतिकता नहीं बची है.

हालांकि भ्रष्टाचार में लिप्त पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की पत्नी गीता कोड़ा को कांग्रेस में शामिल कर नैतिकता से हटने के सवाल का जवाब देना उनके लिए काफी मुश्किल भी रहा. कारण इससे राज्य में बनने जा रही महागठबंधन पर कोई गलत प्रभाव न पड़े. गीता कोड़ा के शामिल होने से चाईबासा सीट पर झामुमो की दावेदारी खत्म होने के सवाल पर कहा कि अभी पार्टी के शीर्ष स्तर पर इसका निर्णय होना बाकी है.

palamu_12

इसे भी पढ़ें –पड़ोसी राज्यों से अधिक है झारखंड में बिजली की खपत, सालाना खपत 33 हजार मिलियन यूनिट

भाजपा में शामिल होना एक सतत प्रक्रिया  :  प्रवीण प्रभाकर

सूरज मंडल के भाजपा में शामिल होने पर खुशी जताते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि नेताओं की पार्टी में शामिल होना एक सतत प्रक्रिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों को देख जो भी भाजपा में शामिल होना चाहते है, पार्टी उनका स्वागत करती है. जहां तक झामुमो और कांग्रेस के भाजपा पर भ्रष्टाचार पर लिप्त होने के आरोप पर उनका कहना है कि यह तो इन पार्टियों को देखना चाहिए. जहां झामुमो के दो पूर्व विधायक की सदस्यता पहले ही कोर्ट ने रद्द किया हुआ है. वहीं कांग्रेस का तो भ्रष्टाचार में लिप्त रहने का एक लंबा इतिहास रहा है.

इसे भी पढ़ें –कल से नक्सलियों का दो दिवसीय बिहार-झारखंड बंद, प्रशासन सतर्क

कांग्रेस में शामिल हो सकते है कई अफसर, वर्तमान डीजीपी भी लाइन में

कांग्रेस पार्टी ने एक अन्य नेता ने यह भी बताया है कि गीता कोड़ा को पार्टी में शामिल करना तो एक शुरूआत भर है. पार्टी का केवल एक ही मकसद है, भाजपा को किसी तरह सत्ता में आने से रोकना. इसके लिए एक तरफ महागठबंधन तो मजबूती से ही काम कर ही रही है. चुनाव पूर्व रिटायर होने वाले कई अफसर भी पार्टी में शामिल होकर नयी पारी खेल सकते हैं. हालांकि उस नेता ने संबंधित अफसर का नाम नहीं उजागर करने की भी गुजारिश न्यूज विंग संवाददाता से की. उन्होंने यह जरूर बताया कि इस कड़ी में कई दागी अफसर भाजपा में शामिल हो सकते हैं.

मालूम हो कि कांग्रेस में शामिल होने वाले कई अफसरों की एक लबीं लाइन शुरू से रही है. इसमें आईपीएस रह चूके वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार, लोहरदगा विधायक सुखदेव भगत, लोहरदगा से सासंद रह चूके पूर्व आइपीएस रामेश्वर उरांव जैसे नेता शामिल हैं. इसी तरह वर्तमान डीजीपी डीके पांडेय से एक स्थानीय अखबार के संवाददाता ने पूछा था कि क्या उनका भविष्य में राजनीति में जाने का इरादा है. तो डीजीपी ने टोलमटोल जवाब देकर कहा था कि राज्य की सुरक्षा, राज्य का विकास, भ्रष्टाचार मुक्त व्यवस्था यहीं हमारा संकल्प है. कुछ माह पहले भी एक प्रेसवार्ता में उनका एक बयान ‘सबका साथ सबका विकास, यही है रघुवर सरकार’ के बयान से यह अंदाजा लगाया गया था कि वे जल्द ही वे भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं. उस समय सोशल मीडिया में इस बात की चर्चा थी कि वे अब वे भाजपा प्रवक्ता बन कर काम कर रहे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: