NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अर्जुन मुंडा का यह ट्वीट कहीं सत्ता पर काबिज हुक्मरानों के लिए कुछ इशारा तो नहीं

1,467

Ranchi : 31 जुलाई को उपन्यास सम्राट कहे जानेवाले मुंशी प्रेमचंद की जयंती है. यूं तो उनका नाम धनपत राय श्रीवास्तव था, लेकिन उन्हें लोग मुंशी प्रेमचंद के नाम से ही जानते हैं. ट्विटर, फेसबुक और सोशल मीडिया के जरिये कई लोगों ने उन्हें आज के दिन याद किया है. उन्हीं में से एक हैं झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुडां. अर्जुन मुंडा ने जिस तरीके से मुंशी प्रेमचंद जी को ट्विटर पर श्रद्धांजलि दी है, उसे लोग झारखंड की मौजूदा राजनीतिक स्थिति से जोड़कर देख रहे हैं. वह लगातार ट्विटर हैंडल पर ट्रेंड कर रहे हैं. कुछ लोगों का कहना है कि अर्जुन मुंडा ने ट्वीट कर झारखंड की मौजूदा राजनीतिक स्थिति पर तंज कसा है. वहीं, कुछ का कहना है कि हर चीज को राजनीति से जोड़कर नहीं देखना चाहिए. लेकिन, गौर करनेवाली बात यह है कि अर्जुन जैसी शख्सियत अगर कुछ भी लिखे या कहे, तो उसे राजनीति से जोड़कर ही देखा जायेगा.

इसे भी पढ़ें- लोहरदगा : यहां मुक्तिधाम में भी छलकते हैं जाम के प्याले

अंधा अंधे का नेतृत्व करे, तो दोनों खाई में गिरेंगे

अर्जुन मुंडा ने ट्विटर पर मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर ट्वीट कर लिखा है कि “मुंशी प्रेमचंद एक ऐसे व्यक्ति थे, जो अपनी रचनाओं में बहुत ही स्पष्ट और कटु भाषाओं का उपयोग करते थे. उन्होंने ऐसे कथन हिन्दी और अन्य भाषाओं मे लिखे, जो कि लोगों के लिए प्रेरणास्रोत बन गये. उनकी जयंती पर उन्हें शत-शत नमन.” ट्विटर पर इतना लिखने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने एक फोटो भी डाली है. फोटो में मुंशी प्रेमचंद हैं और उनका एक कोटेशन. कोटेशन में लिखा है कि “अगर अंधा अंधे का नेतृत्व करे, तो दोनों खाई में गिरेंगे”. इसी कोटेशन की वजह से अर्जुन मुंडा ट्विटर पर ट्रेंड करने लगे. कोटेशन को झारखंड की मौजूदा राजनीति से जोड़कर देखा जा रहा है.

अर्जुन मुंडा का यह ट्वीट कहीं सत्ता पर काबिज हुक्मरानों के लिए कुछ इशारा तो नहीं

इसे भी पढ़ें- दीपक ने भाई के साथ मिलकर की पिता, मां, पत्नी दोनों बच्चों की हत्या, फिर खुद को लगायी फांसी :…

राजनीतिक इशारा है, तो फिर अंधा कौन

madhuranjan_add

मामले को लेकर राजनीति से जुड़े कई लोगों से बात की गयी. नाम नहीं छापने की शर्त पर लोगों ने कहा कि झारखंड की मौजूदा राजनीति पर इशारों-इशारों में अर्जुन मुंडा ने तंज कसा है. लोगों का कहना है कि अर्जुन मुंडा से झारखंड का हाल छिपा नहीं है. लेकिन, पार्टी से जुड़े होने की वजह से वह मुखर होकर कुछ कह नहीं पा रहे हैं. इसलिए इशारों-इशारों में वह बहुत कुछ कह गये. बताते चलें कि हाल के कुछ दिनों में कुछ अखबारों में पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुडां ने साफ तौर से कहा था कि राज्य में जो हो रहा है, वह ठीक नहीं हो रहा है. अगर हालात ऐसे ही रहे, तो आनेवाले दिनों में बीजेपी को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: