Crime NewsLead NewsMain SliderNationalNEWS

करीब 70 बच्चों के यौन शोषण का आरोपी है यह जूनियर इंजीनियर, पत्नी भी करती थी मदद

आरोपी का कराया जा रहा है एचआइवी टेस्ट, पीड़ित बच्चों को खतरा

 Lacknow : सीबीआई जांच में खुलासा हुआ है कि उत्तर प्रदेश के बांदा जिला के सिंचाई विभाग का जूनियर इंजीनियर (जेई)  रामभवन अब तक 70 से अधिक बच्चों का यौन शोषण कर चुका है. इस कुकृत्य में पत्नी भी सहयोग करती थी. अपने रिश्तेदारों के बच्चों तक नहीं बख्शता था. चार साल के बच्चों से लेकर 22 साल तक के युवकों को अपना शिकार बनाता था.

 

बच्चों को एचआईवी होने की आशंका

जिन बच्चों का यौन शोषण किया गया उन्हें एचआईवी होने का शक है. दिल्ली के एम्स अस्पताल में रामभवन के टेस्ट किए जा रहे हैं. आठ डॉक्टरों की एक टीम रामभवन का टेस्ट कर रही है जिससे बच्चों को बीमारी से बचाया जा सके. डॉक्टरों की टीम रामभवन की मानसिक, एचआईवी और पीडोफाइल टेस्ट कर रही है.

 

पत्नी को भी किया गिरफ्तार

बीती 29 दिसंबर को सीबीआई ने उसकी पत्नी को भी गिरफ्तार किया था. रामभवन की पत्नी पत्नी दुर्गावती पर पॉक्सो अधिनियम की धारा-17 (बाल यौन शोषण अपराध में मदद करना और छिपाना) और 120बी (षड्यंत्र में शामिल होना) के तहत आरोप है.

पॉर्न साइटों अश्लील सामग्री देता था

गौरतलब है कि सीबीआई ने कथित तौर पर कई बच्चों का यौन शोषण करने और उनके अश्लील वीडियो व फोटो पॉर्न साइटों को बेचने के मामले 16 नवंबर को जेई रामभवन को गिरफ्तार किया था. उस पर करीब 10 साल से इस कुकर्म को करने का गंभीर आरोप है. सीबीआई की टीम ने चित्रकूट में जूनियर इंजीनियर और उसके साथियों के आवास की तलाशी ली थी. तलाशी के दौरान करीब आठ लाख रुपये नकद, 12 मोबाइल फोन, लैपटॉप, वेब-कैमरा और अन्य इलेक्ट्रॉनिक स्टोरेज डिवाइस मिले थे.

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: