BusinessLead NewsNational

ये बैंकिंग सुविधा दिसंबर से मिलने लगेगी 24 घंटे और 365 दिन

बैंक पैसों के लेन-देन से जुड़े कुछ नियम में करने जा रहे हैं बदलाव

New delhi: वर्ष 2020 के अंतिम महीने में बैंक पैसों के लेन-देन से जुड़े कुछ नियमों में बदलाव करने जा रहे हैं. इस नए नियम के तहत अब आप 24 घंटे और 365 दिन रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) के माध्यम से पैसे ट्रांसफर कर पाएंगे.

Jharkhand Rai

दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने आरटीजीएस (RTGS) को 24×7 घंटे लागू करने का ऐलान किया था. फिलहाल, दूसरे और चौथे शनिवार को छोड़ दें तो महीने के सभी वर्किंग डे पर RTGS सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :रक्तरंजित हुआ छठ घाट, नक्सलियों ने कोयला व्यवसायी को भूना

क्या है RTGS सर्विस

RTGS को रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट भी कहा जाता है. इसके जरिए पैसे आसानी से कम समय में ट्रांसफर किये जाते हैं. आमतौर पर इससे बड़े अमाउंट को ट्रांजेक्शंस करने में सुविधा होती है. बड़े व्यापारियों के लिए बड़े काम की चीज है. 2 लाख रुपये से कम अमाउंट इसके जरिए ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है. इससे भी बड़ी बात यह है कि ट्रांसफर करने पर कोई अतिरिक्त शुल्क भी नहीं देना होता है. ऑनलाइन या बैंक के ब्रांच दोनों माध्यम से आप फंड ट्रांसफर कर सकते हैं.

Samford

इससे पूर्व नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) को 24 घंटे उपलब्ध भी इसी तरह करवाया गया था. वर्ष 2019 के दिसंबर में NEFT सिस्टम को 24×7 उपलब्ध कराया गया था.

NEFT इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट करने का आसान तरीका

नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट करने का आसान तरीका है. जिसके माध्यम से आप एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसों का लेनदेन सेकेंड भर में कर सकते है. इसके लिए आपके खाते में इंटरनेट बैंकिंग सुविधा चालू होनी चाहिए. बड़ी बात यह है कि इसमें पैसे ट्रांसफर करने के लिए किसी भी तरह का कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ता है. लेकिन ब्रांच से NEFT करने में चार्ज लगता है.

क्यों दी जा रही यह सुविधा

भारत के अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्रों को विकसित करने और घरेलू, कॉरपोरेट संस्थानों को बड़े स्तर पर ऑनलाइन भुगतान की फ्लैक्सिबिटी उपलब्ध कराने के लिए यह फैसला लिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें :हामिद अंसारी के विचार : कोरोना संकट से पहले देश धार्मिक कट्टरता-आक्रामक राष्ट्रवाद की महामारी की चपेट में आ चुका है  

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: