BiharJharkhandLead NewsNEWSRanchi

झारखंड के रास्ते बिहार में शराब की नहीं हो पाएगी एंट्री,  तस्करी रोकने को सीमावर्ती जिलों में बढ़ेंगे चेकपोस्ट, हर वाहन की होगी जांच

Ranchi: झारखंड से आने वाले अवैध शराब और शराब माफियाओं पर नकेल कसने के लिए बिहार झारखंड के सीमावर्ती जिलों में चेकपोस्ट की संख्या बढ़ाई जायेगी. झारखंड की सीमा से सटे सीमावर्ती इलाके में इन चेकपोस्टो का निर्माण किया जायेगा. बिहार में दूसरे राज्यों से अवैध रूप से शराब की तस्करी करनेवाले लोगों के लिए बिहार सरकार कवायद शुरु कर दी है. राज्य के अंदर अवैध शराब बनाने व बेचने वालों के खिलाफ प्रभावी अभियान चलाने के बाद अब मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग दूसरे राज्यों से प्रदेश में आने वाली शराब पर रोक लगाने के अभियान में जुट गया है. इसके लिए सबसे पहले अंतरराज्यीय सीमाओं से लगने वाले इलाकों में चेक पोस्टों को लेकर की गई है. इस चेकपोस्ट से झारखंड से आने वाले हर वाहनों की कड़ी निगरानी होगी. इस समय कोई पुख्ता प्रबंध नहीं होने के कारण झारखंड से आने वाले वाहन विशेष जांच के बगैर ही बिहार में प्रवेश कर जाते हैं. इस समय झारखंड के बड़ी मात्रा में अवैध शराब बड़ा हिस्सा बिहार पहुंचती है.

 

आधा दर्जन सीमावर्ती जिलों में बनेगा चेकपोस्ट

बिहार झारखंड के कई जिले के सीमावर्ती इलाका सटा है और पूरी तरह खुला है. लिहाजा, इस पर नजर रखना कठिन हो रहा है. बिहार सरकार औरंगाबाद, कैमूर, जमुई, बांका, गया और रोहतास जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में चेकपोस्ट बनाने की तैयारी में है. सभी चेकपोस्ट अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होंगे. यहां उच्च क्वालिटी के सीसीटीवी, मॉनिटरिंग सेल और आधुनिक उपकरण लगे होंगे. वाहनों की कड़ी जांच और स्क्रीनिंग के भी पुख्ता प्रबंध होंगे. यहां पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल रहेंगे. अत्याधुनिक कैमरों को मुख्यालय के सर्वर से जोड़ा जाएगा ताकि कंट्रोल रूम से सीधे इनकी मानीटरिंग की जा सके.

 

रांची में बिहार पुलिस की मद्य निषेध इकाई ने तस्कर को किया था गिरफ्तार

इसी वर्ष अप्रैल माह में बिहार पुलिस की मद्य निषेध इकाई ने अवैध शराब के विरुद्ध छापेमारी में रांची के बरियातू थाना अंतर्गत बैद्यनाथ रेसिडेंशियल से बिहार में शराब भेजने वाले तस्कर विपिन कुमार सिंह को गिरफ्तार किया. विपिन कुमार सिंह झारखंड में अपने सहयोगियों की मदद से शराब का सिंडिकेट चला रहा था. वह पिछले दो सालों से बिहार के कई जिलों में अवैध शराब की आपूर्ति कर रहा था. उसपर नवगछिया के खरिक थाना में उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी भी दर्ज है.

 

23 कार्टन विदेशी शराब के साथ हजारीबाग का तस्कर पकड़ा गया

इसी वर्ष जुलाई में झारखंड से सिकंदरा के रास्ते विदेशी शराब की खेप शेखपुरा लाया जा रहा था. जिसे पुलिस ने शेखपुरा -सिकंदरा मुख्य सड़क मार्ग पर धर दबोचा. साथ ही इनोवा क्रिस्टा कार में छुपाकर रखे गए 23 कार्टन विदेशी शराब और कार सहित तस्कर हजारीबाग के बड़ा बाजार अंतर्गत सिटी मोहल्ला निवासी स्व मुरुर्र होदा का पुत्र एहसान अली को गिरफ्तार किया गया. शराब की खेप झाड़खंड से बिहार लाई जा रही थी.

 

झारखंड से बिहार जा रही 61 पेटी विदेशी शराब कुजू में पकड़ी गई

इसी वर्ष फरवरी में रामगढ़ जिले की कुजू पुलिस ने पिकअप वैन में भरकर रांची से बिहार भेजी जा रही 61 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद की. भोजपुर होटल के समीप से माल लेकर जा रहे वाहन को जब्त किया गया. हालांकि मौके से शराब माफिया व चालक फरार हो गए. जब्त शराब का बाजार मूल्य लगभग 5 लाख रुपए होने का अनुमान है. पुलिस को गुप्त सूचना मिली की भारी मात्रा में विदेशी शराब लेकर पिकअप वैन रांची से बिहार जा है. भोजपुर फोरलेन सड़क के पास चेकपोस्ट लगाकर वाहनों की जांच शुरू की तो शराब पकड़ा गया.

Related Articles

Back to top button