न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू एसपी समेत10 आइपीएस होंगे इधर से उधर

सरकार ने मांगा प्रस्ताव, सप्ताह भर में बदले जायेंगे अफसर

4,329

Ranchi : पलामू एसपी इंद्रजीत महथा सहित 10 आइपीएस जल्द ही बदले जायेंगे. सरकार ने इस संबंध में प्रस्ताव मांगा है. गृह विभाग ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है. गृह विभाग के सूत्रों के अनुसार एक सप्ताह के अंदर इन अफसरों को इधर से उधर कर दिया जायेगा. सीएमओ के सूत्रों के अनुसार परफॉरमेंस के आधार पर इन अफसरों को बदलने के लिये कहा गया है. मुख्यमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम में आई कई गंभीर शिकायतों पर सीएम ने कई जिलों के एसपी से नराजगी जता चुके हैं.

वहीं दूसरी तरफ आगामी चुनाव को देखते हुये सरकार ने अफसरों को बदलने का फैसला लिया है. हालांकि सीएमओ ने यह भी स्पष्ट किया है कि नक्सल प्रभालित जिलों में एक्टिव अफसरों की जरूरत है. विधि व्यवस्था दुरुस्त नहीं रहने के कारण सरकार की छवि खराब हो रही है. इन 10 अफसरों के लिये पुलिस मुख्यालय से गृह विभाग ने जल्द प्रस्ताव देने को कहा है. हालांकि गृह विभाग ने अफसरों के नामों का खुलासा नहीं किया है.

इसे भी पढ़ें:पत्रकार से जाति विशेष बातचीत के दौरान IPS  इंद्रजीत महथा ने अपने…

पलामू एसपी ने अब तक नहीं दिया है जवाब

कास्टिज्म करने वाले पुलिस अफसर इंद्रजीत अफसर ने अब तक शोकॉज का जवाब नहीं दिया है. एक सप्ताह पहले गृह विभाग ने उन्हें शो-कॉज जारी किया था. इस मामले को सरकार ने गंभीरता से लिया है. जारी शो कॉज में कहा भी गया है कि इस मामले में तत्काल जवाब दें, अन्यथा नियम के अनुसार आगे की कार्रवाई की जायेगी.

पुलिस पदाधिकारियों ने भी की थी लिखित शिकायत

इस मामले पर राज्य के मध्य और कनीय स्तर के पुलिस पदाधिकारियों ने भी गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे से लिखित शिकायत की थी. उन्होंने गृह सचिव एसकेजी रहाटे को लिखे पत्र में कहा था कि आईपीएस अफसर इंद्रजीत महथा की मानसिकता पूरी तरह से जातीय आधार पर अपने स्वजातियों के पक्ष में बंटी है. महथा पूरी तरह से जातीय भावना से ग्रसित हैं. जिस तरह से उन्होंने अपने स्वजातियों के संबंध में बातें की हैं और उन्हें प्रमोट करने की बात कही है, वह उनकी घटिया मानसिकता को भी दर्शाता है. महथा ने पुलिस की कार्यशैली को प्रभावित करने का प्रयास किया है. पुलिस पदाधिकारियों ने एसवीपीएनपीए के निदेशक डीआर डोले बर्मन को भी पत्र लिखकर इस पर कार्रवाई की मांग की है.

इसे भी पढ़ें:कास्टिज्म की बात करने पर फंसे पलामू SP, गृह विभाग ने किया शोकॉज, मांगा स्पष्टीकरण

ऑडियो क्लिप की होगी जांच

इधर गृह विभाग के पुख्ता सूत्र के हवाले से खबर आ रही है कि एसपी इंद्रजीत महथा के ऑडियो क्लिप की जांच होगी. विभाग फॉरेसिंक जांच के क्लिप हैदराबाद भेजने की तैयारी कर रहा है. दरअसल एडीजी रेजी डुंगडुंग ने भी मामले को गंभीरते से लेते हुए डीजीपी डीके पांडे को खत लिखा है. अपनी चिट्ठी में एडीजी ने कहा है कि ऑडियो से झारखंड पुलिस की छवि धूमिल हुई है. इसलिए ऑडियो क्लिप की आईजी स्तर के अधिकारी से जांच करवाने की जरूरत है. बताया जा रहा है कि अगर जांच में ऑडियो क्लिप सही पायी गयी तो एसपी इंद्रजीत महथा पर कार्रवाई तय है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: