Lead NewsNationalNEWS

देश में ओमिक्रोन वैरिएंट के चार मामल हुए, जानें-नये मामले कहां-कहां मिले, नये साल में तीसरी लहर की आशंका

New Delhi: भारत में ओमिक्रोन वैरिएंट के मामले बढ़कर चार हो गये हैं. महाराष्ट्र और गुजरात में एक-एक व्यक्ति में शनिवार को ओमिक्रोन वैरिएंट की पुष्टि हुई. गुजरात के जामनगर में 72 साल के व्यक्ति पाए गये. यह 28 नवंबर को जिम्बाबे से यहां पहुंचे थे. इधर,मुंबई से सटे कल्याण में 33 साल के युवक पीड़ित पाए गये हैं. यह 23 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से दुबई और दिल्ली होते हुए मुंबई पहुंचे थे. इससे पहले भी देश में दो व्यक्ति ओमिक्रोन संक्रमित पाए गये थे.

इसे भी पढ़ेंःJharkhand Corona Update: 24 घंटे में 35 कोरोना संक्रमित मिले, 26 सैंपल जांच के लिए भुवनेश्वर भेजा गया

advt

इधर, पद्मश्री से सम्मानित आइआइटी के प्रो. मणींद्र अग्रवाल का अनुमान है कि नए वर्ष में तीसरी लहर आ सकती है. इनके अनुसार ओमिक्रोन फैलना शुरू कर चुका है तो कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के अगले वर्ष की शुरुआत में चरम पर पहुंचने की संभावना है. कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की अपेक्षा ओमिक्रोन वैरिएंट काफी तेजी से फैल रहा है. इनका सुझाव है कि लोग सतर्कता बरतें, जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई है, वह जल्द लगवा लें और स्वत: लाकडाउन के नियमों का पालन करें.

 

प्रो. मणींद्र अग्रवाल ने बताया कि अब तक कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रोन किसी नेचुरल इम्युनिटी वाले शख्स को बाईपास नहीं कर सका है. जो लोग पूर्व में संक्रमित होकर ठीक हो चुके हैं, उनमें खुद ही अच्छी प्रतिरोधक क्षमता (नेचुरल इम्युनिटी) विकसित हो चुकी है, उन पर इस वायरस का ज्यादा असर अब तक नहीं दिखाई पड़ा है. प्रो. अग्रवाल ने बताया कि माना जा रहा है कि कोरोना का नया वैरिएंट वैक्सीन वाली इम्युनिटी को बाईपास करने में कुछ हद तक सक्षम है. इसी तरह वैक्सीन लगवाने के बाद जिन लोगों में इम्युनिटी का विकास हुआ है, उन्हें भी बहुत ज्यादा बाईपास नहीं कर पा रहा है. इसके कारण भारत में ज्यादा असर होने की संभावना नहीं है, वजह यह है कि भारत में 80 फीसद लोगों में नेचुरल इम्युनिटी है.

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: