न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देश में खेल प्रतिभाओं की नहीं, सुविधाओं की कमी है : चेतन चौहान

क्रीड़ा भारती के तीन दिवसीय कार्यक्रम का राजकमल में उद्घाटन

72

Dhanbad : क्रीड़ा भारती तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन शुक्रवार को राजकमल में पूर्व क्रिकेटर क्रीड़ा भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष चेतन चौहान ने दीप प्रज्वलित कर किया. कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह में धनबाद के मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल भी शामिल हुए. उद्घाटन समारोह में चेतन चौहान ने कहा कि वर्तमान में क्रीड़ा भारती की शाखा जम्मू-कश्मीर से कन्याकुमारी और मणिपुर से राजस्थान और केरल तक हर प्रांत और गांवों में स्थापित हो चुकी है. खेल के प्रति लोगों की गलतफहमियां मिट रही हैं. देश खेल के क्षेत्र में तरक्की कर रहा है, देश बदल रहा है.

भारत खेल में छठा स्थान प्राप्त कर सकता है

चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि देश में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, सिर्फ सुविधाओं की कमी है. अगर भारत विश्व की छठी सबसे बड़ी अर्थवयवस्था बन सकता है, तो खेल के क्षेत्र में भी क्यों नहीं छठे स्थान तक पहुंच सकता है. हरेक अभिभावक को अपने बच्चों को शाम में 4 से 6 बजे तक खेलने के लिए मैदान में जरूर भेजना चाहिए. इससे नौजवानों की ऊर्जा को सही दिशा में चैनलाइज्ड करना है. नहीं तो यह भटक जायेंगे.

समाप्त हो रहे पुराने भारतीय खेलों को बढ़ावा देना क्रीड़ा भारती का उद्देश्य

कार्यक्रम में चौहान ने कहा कि खेल से युवा स्वस्थ, अनुशासित और कुशल बनते हैं. खेल एक साधना है जिससे खिलाड़ी मजबूत होते हैं. उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करता है. क्रीड़ा भारती प्राचीन भारतीय खेलों को खत्म होने से बचा रहा है और उनको बढ़ावा दे रहा है. इसका यही उद्देश्य है. लेकिन किसी भी अन्य खेल से कोई भी प्रतिस्पर्धा नहीं है.

मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने कहा कि स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स जहां जंगल झाड़ उगे थे, उसका पुनरुद्धार क्रीड़ा भारती की देन है. इस तरीके के आयोजन से धनबाद की प्रतिष्ठा बढ़ी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: