JharkhandLohardaga

लोहरदगा सदर अस्पताल में पानी के लिए कोहराम, मरीजों को खरीदना पड़ रहा पानी

Lohardaga: झारखंड में प्रचंड गर्मी पड़ रही है और ऐसे में जिले के अस्पताल में पानी की समस्या गहराने लगी है. बात करें लोहरदगा सदर अस्पताल की जहां पानी की घोर समस्या है. मरीज और उनके परिजन बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं. बाथरूम तक में पानी की सही तरीके से सप्लाई नहीं हो रही है. मरीज के परिजन या तो घर से रिश्तेदार से या खरीद कर पानी की किल्लत पूरी कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : एसीबी की कार्रवाई: कनीय अभियंता 10 हजार घूस लेते गिरफ्तार

बाथरूम तक में पानी की सप्लाई नहीं

Catalyst IAS
ram janam hospital

लोहरदगा सदर अस्पताल में न सिर्फ पीने के पानी की किल्लत है. बल्कि अस्पताल के बाथरूम तक में पानी की सप्लाई नहीं है. वॉश बेसिन, वाटर कूलर खराब पड़ा है. नल सूखे पड़े हैं. सदर अस्पताल में हर साल गर्मियों में पीने के पानी को लेकर त्राहिमाम की स्थिति है. मरीज एक-एक बूंद पानी के लिए तरस रहे हैं. हालात इतने बुरे हैं कि मरीज और उनके परिजन को बाहर से पानी भरकर लाना पड़ता है. सदर अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ संजय कुमार सुबोध पानी की समस्या को कबूल कर रहे है और बताते हैं कि सदर अस्पताल में पूर्व से ही पानी की समस्या है नगर परिषद से भी पानी की सप्लाई की जाती हैं, लेकिन समस्या दूर नही होती हैं. यह पूरा क्षेत्र ड्राईजोन होने के कारण डीप बोरिंग भी सक्सेस नही होती हैं इसके लिए उपायुक्त को सूचना दे दी गई है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

लोहरदगा सदर अस्पताल में एक नलकूप के भरोसे लोग धूल फांक रही हैं वाटर कूलर

लोहरदगा के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल सदर अस्पताल में पानी की बड़ी किल्लत है. स्थिति ऐसी है कि इस चिलचिलाती धूप में मरीज के परिजनों बाहर से जाकर पानी लाने को मजबूर हैं. सदर अस्पताल में वाटर कूलर लगा है. लेकिन, वो महीनों से ठप पड़ा है और धूल फांक रहा है. मरीज के परिजन अस्पताल से दूर जाकर पानी लाने को मजबूर हैं.

इसे भी पढ़ें : JHARKHAND PANCHAYAT: चुनाव लड़ना है तो इनके लिए जरूरी है 1932 का खतियान !

Related Articles

Back to top button