न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

News Wing Impact : फर्जी सफाईकर्मियों की जांच के लिए निगम ने बनायी समिति

फर्जी सफाईकर्मियों के वेतन लेने की खबर गत 5 मार्च को सबसे पहले न्यूज विंग ने छापी थी

22
  • मामला संज्ञान में आने पर सहायक नगर आयुक्त की अध्यक्षता में बनी समिति
  • 15 मार्च से पिछले छह महीने तक बॉयोमीट्रिक्‍स मशीन में दर्ज कर्मियों के उपस्थिति रिपोर्ट देने का निर्देश

Ranchi :  न्यूज विंग वेब पोर्टल में छपी एक खबर का असर एकबार फिर देखने को मिला है. गत 5 मार्च को संस्थान ने रांची नगर निगम में हो रहे घोटाले की खबर प्रमुखता से छापी थी. खबर में बताया गया था कि सफाई के नाम पर निगम में करीब 10 लाख रुपये का घोटाला हुआ है. चार जोन में बंटे निगम क्षेत्र में 15 के करीब ऐसे सफाईकर्मी हैं, जो वास्तव में निगम के कर्मी है ही नहीं. लेकिन वे पिछले एक साल से निरंतर नियमित वेतन उठा रहे हैं. इसमें अनुमानतः निगम को करीब 10 लाख रुपये तक का नुकसान हुआ है.

हालांकि बाद में निगम के स्वास्थ्य पदाधिकारी किरण कुमारी ने इसके लिए बॉयोमीट्रिक्‍स सिस्टम को कारण बताया था. सूत्रों के मुताबिक निगम परिषद की 9 मार्च को हुई बैठक में भी मेयर आशा लकड़ा ने इस बात को उठाया था. मामला सामने आने के बाद अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर ने चार जोन में जोनवाइज कमेटी बनायी है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड विकास मोर्चा ने ऑनलाइन उपस्थिति में मुख्यमंत्री का फोटो आने पर की चुनाव आयोग से शिकायत

बॉयोमीट्रिक्‍स मशीन में दर्ज उपस्थित रिपोर्ट सौंपने का निर्देश

मामला सामने आने के बाद ही निगम ने यह समिति बनायी है. निगम के दोनों सहायक नगर आयुक्त की अध्यक्षता में बनी इस समिति के सदस्यों को निर्देश दिया है कि वे गत 15 मार्च से पहले के छह माह में संबंधित जोन के दैनिक सफाईकर्मियों की उपस्थिति का विश्लेषण करते हुए बॉयोमीट्रिक्‍स मशीन में दर्ज उपस्थिति की जांच कर रिपोर्ट सौंपे. इसमें वे सुनिश्चित करेंगे कि उपस्थित या कार्यरत मजदूर वर्तमान में निगम में कार्य कर रहे हैं या नहीं.

इसे भी पढ़ें : आजसू सुप्रीमो ने भरा दंभ, कहा -चुनावी जंग में कौन कितना बड़ा नेता है यह मायने नहीं रखता : सुदेश

चार जोनवाइज में बनी है कमेटी 

जोन – 1 में सहायक नगर आयुक्त रजनीश कुमार सिंह, सिटी मैनेजर अंबुज कुमार सिंह, कंप्‍यूटर प्रोग्रामर राजेश कुमार शामिल हैं. जोन – 2 में सहायक नगर आयुक्त ज्योति कुमार सिंह, सिटी मैनेजर मृत्युजंय पांडेय, कम्प्यूटर प्रोग्रामर राजेश कुमार शामिल हैं. जोन – 3 में सहायक नगर आयुक्त रजनीश कुमार सिंह, सिटी मैनेजर अंबुज कुमार सिंह, कम्प्यूटर प्रोग्रामर राजेश कुमार शामिल हैं. जोन – 4 में सहायक नगर आयुक्त ज्योति कुमार सिंह, सिटी मैनेजर मृत्युजंय पांडेय, कम्प्यूटर प्रोग्रामर राजेश कुमार शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : जनता के सवालों का सीधा जवाब नहीं दे पाये झारखंड के मुख्य विपक्षी नेता

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: