न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विश्व के सबसे बड़े विमान ने मोयावे रेगिस्तान के ऊपर उड़ान भरी

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने शनिवार को अपनी पहली टेस्ट उड़ान पूरी की. इसमें बोइंग 747 के छह इंजन लगाये गये  हैं.  बता दें कि  इस विमान के 385 फ़ुट लंबे पंख किसी अमरीकी फ़ुटबॉल मैदान जितने बड़े हैं.

105

Washington : दुनिया के सबसे बड़े विमान ने शनिवार को अपनी पहली टेस्ट उड़ान पूरी की. इसमें बोइंग 747 के छह इंजन लगाये गये  हैं.  बता दें कि  इस विमान के 385 फ़ुट लंबे पंख किसी अमरीकी फ़ुटबॉल मैदान जितने बड़े हैं.  इस विशाल विमान ने शनिवार को मोयावे रेगिस्तान के ऊपर अपनी पहली उड़ान भरी. यह विमान अंतरिक्ष में रॉकेट लॉन्च करने के लिए खास तौर से तैयार किया गया है. जानकारों के अनुसार इस विमान की मदद से सीधे स्पेस में रॉकेट लॉन्च किया जा सकेगा, जिसके बाद रॉकेट सैटेलाइट को स्पेस की कक्षा में स्थापित करेगा. मौजूदा समय में टेकऑफ रॉकेट की मदद से उपग्रहों को कक्षा में भेजा जाता है. इसके मुकाबले उपग्रहों को कक्षा तक पहुंचाने में यह विकल्प ज्यादा अच्छा रहेगा.

इसे भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव : ईवीएम पर भरोसा नहीं, विपक्षी दल सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगायेंगे

 इंजीनियरिंग कंपनी स्केल्ड कम्पोजिट्स ने विमान बनाया है

इस विमान का निर्माण स्केल्ड कम्पोजिट्स नाम की एक इंजीनियरिंग कंपनी ने किया है. स्ट्रेटोलॉन्च नामक कंपनी ने इसे बनाया है. यह कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी सॉफटवेयर निर्माता कंपनियों में से एक माइक्रोसॉफट के सह-संस्थापक पॉल एलन ने 2011 में बनाई थी. कंपनी ने ट्वीट कर बताया, आज स्ट्रैटोलांच विमान ने मोजेव रेगिस्तान पर 2.5 घंटे के लिए उड़ान भरी, जो 189 मील प्रति घंटे की टॉप स्पीड पर पहुंच गया.  इस संबंध में स्ट्रेटोलॉन्च के सीईओ जीन फ्लूइड ने कहा, क्या बेहतरीन फ्लाइट थी. आज पहली उड़ान से हमारे मिशन को काफी मजबूती मिली है. उम्मीद है कि हम अब रॉकेट लॉन्च के अन्य विकल्प दे पायेंगे.

इसे भी पढ़ें- भाजपा नेता का पीएम मोदी को पत्र, सही चुनाव हुए तो आप 400 नहीं, 40 सीटों पर सिमट जायेंगे

hotlips top

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like