Jamshedpur

महिला को अधमरा कर बैलगाड़ी पर लादकर ले गए थे ग्रामप्रधान के घर, सांस टूटने तक डंडे से पीटा

कोवाली में डायन के संदेह में की गई रुपी की हत्या, अर्द्धनग्न अवस्था में शव बरामद, दो गिरफ्तार

Jamshedpur : कोवाली थाना क्षेत्र के मांगड़ू गांव में डायन के संदेह में एक महिला की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. महिला जब अधमरा हो गई थी, तब उसे एक बैलगाड़ी पर लादकर आरोपी ग्रामप्रधान के घर लेकर पहुंचे थे. प्रधान के नहीं होने पर वे वापस लौटते समय बैलगाड़ी को नदी में ढकेल दिया और शव को अर्द्धनगस्न अवस्था में घर के पीछे बाड़ी में फेक दिया. सूचना पाकर पुलिस ने घटना के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही है.

घटना की कहानी मृतका के पति की जुबानी

घटना के संबंध में रूपी मुर्मू (49) के पति चांदु मुर्मू का कहना है कि बुधवार की रात आठ बजे गांव का ही बानाव सोरेन और मंगल मुर्मू डंडा लेकर उनके घर पर आये थे. तब वे पत्नी के साथ बैठे हुए थे. दोनों ने पत्नी पर डायन का आरोप लगाते हुए गाली-गलौज और मारपीट पर करना शुरू कर दिया. वे जब बीच-बचाव में आए थे तो उन्हें भी डंडे से पीट दिया. इसके बाद वे  डर से भाग गये थे. दोनों ने पत्नी रूपी मुर्मू के साथ तब तक मारपीट की जबतक वह अधमरा नहीं हो गई.

ram janam hospital
Catalyst IAS

घर पर नहीं मिले थे ग्रामप्रधान

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

दोनों रूपी मुर्मू को बैलगाड़ी पर लादकर प्रधान के घर शिकायत करने ले गये. हालांकि, वहां प्रधान के नहीं मिलने पर युवक रूपी मुर्मू को पास ही स्थित नदी किनारे लेकर गये. वहां उसकी फिर से पिटायी की. इससे उसकी मौत हो गई. उसके बाद युवकों ने बैलगाड़ी को नदी के अंदर ढकेल दिया और शव को कंधे पर लादकर चांदु मुर्मू के घर के पीछे बाड़ी में फेंक दिया.

पहले भी डायन कहकर किया जाता था प्रताड़ित 

चांदु मुर्मू के मुताबिक उनकी पत्नी को पहले भी डायन कहकर गांव के लोग प्रताड़ित करते थे. इसे लेकर ग्रामसभा की बैठक भी हो चुकी है. बावजूद इसके पत्नी को प्रताड़ित करने का सिलसिला कम नहीं हुआ और उसकी जान ले ली गई.

महिला का रास्ता रोककर दी गई थी धमकी

इस मामले में जो बातें सामने आई है उसके मुताबिक बुधवार को रुपी आरोपी बानाव सोरेन ने घर गई थी. उसने उसकी पत्नी का हाथ पकड़ लिया था. उसके बाद वह बीमार पड़ गई थी. इसी को लेकर बानाव का रुपी पर डायन होने का संदेह ज्यादा बढ़ गया. हालांकि उस वक्त वह फुटबॉल खेलने ओड़ीशा गया था. इस पूरे मामले की जानकारी उसकी पत्नी ने उसे फोन कर दी थी. उड़ीसा से लौटने पर शाम को उसने रूपी सोरेन को रास्ते में रोककर उड़ा देने की धमकी दी थी. उसके बाद रूपी अपने घर में चली गई थी. बाद में बानाव ने अन्य के साथ घटना को अंजाम दे दिया.

डीएसपी ने की मामले की जांच

घटना की सूचना मिलने पर मुसाबनी डीएसपी चंद्रशेखर आजाद ने घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की.  उन्होंने बताया कि मामला आपसी विवाद का है. इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. मौके पर जादूगोड़ा पुलिस निरीक्षक इंद्रदेव राम, कोवाली थाना प्रभारी अमित कुमार रविदास, पोटका थाना प्रभारी रविंद्र मुंडा मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- कोवाली मांगड़ू गांव में पारिवारिक विवाद में महिला की हत्या, पुलिस कर रही जांच

 

Related Articles

Back to top button