Crime NewsLead NewsNational

महिला ने दर्ज कराई दुष्कर्म की शिकायत, पुलिसकर्मियों ने डाला आरोपी से ही शादी करने का दबाव

Gurugram : गुरुग्राम(Gurugram) में 24 वर्षीय महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि एक व्यक्ति ने उससे बलात्कार किया और बाद में उस पर आरोपी से शादी के लिए दबाव डाला गया. पुलिस ने गुरुवार को यह जानकारी दी. महिला ने बताया कि घटना करीब एक साल पहले पुलिस लाइंस इलाके में हुई.
उसने बताया कि आरोपी ने अपने पुलिसकर्मी रिश्तेदारों की मदद से उसे चुप रहने की धमकी दी और कहा कि अगर उसने घटना के बारे में किसी को बताया तो वे उसके आपत्तिजनक वीडियो को इंटरनेट पर डाल देंगे. उसने कहा कि पुलिसकर्मी दंपती ने उसे आरोपी से शादी करने के लिए दबाव डाला.

इसे भी पढ़ें :जमशेदपुर : जेएच तारापोर में रक्तदान शिविर आयोजित, अभिभावकों ने किया रक्तदान

महिला को जन्मदिन की पार्टी में बुलाकर किया बलात्कार

ram janam hospital
Catalyst IAS

महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि वह कुछ महीने पहले आरोपी आनंद से मिली थी. कुछ समय बाद महिला ने शख्स को बताया कि वह नौकरी की तलाश में है. आनंद ने यह कहते हुए उसकी मदद करने की पेशकश की. उसकी बहन और जीजा पुलिस में हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

उसने महिला को गुरुग्राम आने के लिए कहा. शिकायत के अनुसार, महिला अपने जन्मदिन पर पुलिस लाइन्स इलाके के एक घर में गई थी. जहां मंजू नामक महिला जो कथित तौर पर आनंद की बहन थी, ने उसे केक काटने के लिए दिया और उसे कोल्ड ड्रिंक पिलाई. महिला का आरोप है कि पेय पदार्थ में नशीला पदार्थ मिलाया गया था. पीड़िता ने अपनी शिकायत में लिखा, ”फिर आनंद ने मेरा बलात्कार किया और घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी.

इसे भी पढ़ें :रामगढ़ पहुंचने पर पूर्व सीएम रघुवर दास का हुआ भव्य स्वागत

महिला को ब्लैकमेल करने की कोशिश

उसने कहा कि कथित पुलिसकर्मी मंजू ने उसे यह कहते हुए धमकी दी कि उसने उसका एक वीडियो बनाया है और अगर उसने इस घटना के बारे में किसी को बताया तो वह इसे इंटरनेट पर वायरल कर देगी. उसने अपनी शिकायत में कहा, ”मैं चुप रही. आनंद, मंजू और फरीदाबाद में तैनात उसके पति रवि ने पिछले साल जुलाई में एक मंदिर में आनंद से शादी करने के लिए मुझे ब्लैकमेल किया. मैं तब से सदमे में हूं. मैं काफी समय तक चुप रही लेकिन आखिरकार पुलिस के पास आई हूं.

पुलिस ने बताया कि आनंद के खिलाफ सिविल लाइंस पुलिस थाना में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 376 (बलात्कार), 328 (जहर देकर नुकसान पहुंचाना) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. पुलिस के प्रवक्ता सुभाष बोकन ने कहा, ”शिकायत के आधार पर आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. हम तथ्यों की पुष्टि कर रहे हैं और कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें : मामूली विवाद को लेकर गिरिडीह के पचंबा में दो समुदायों के बीच पथराव

Related Articles

Back to top button