न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ठंड ने दी दस्तक, रहें संभलकर, सेहत का रखें ख्याल

112

Ranchi : ठंड के मौसम ने दस्तक दे दी है. दोपहर बाद और सुबह-सुबह ठंड का अहसास होने लगा है. धीरे-धीरे गर्म कपड़े एवं कंबल भी निकलने शुरू हो गये हैं. इसी बीच दुर्गा पूजा मेला का भी आनंद लेना है. ऐसे में पूरी तैयारी के साथ मेला घूमने निकलना चाहिए. छोटे बच्चों को गर्म कपड़े पहनाकर ही शाम को बाहर निकलना चाहिए. मौसम का असर सबसे अधिक बच्चों और बूढ़ों पर ही पड़ता है, क्योंकि इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण इनमें खतरा अधिक रहता है. बदलते मौसम में अधिकतर बच्चों में सर्दी, खांसी, निमोनिया की समस्या हो जाती है, जबकि कई बार मौसम में आये अचानक बदलाव से बच्चों में डायरिया की भी दिक्कत आ सकती है. बच्चों को बीमारियों से दूर रखने के लिए उन्हें वक्त पर वैक्सीन जरूर देना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- दुर्गा पूजा मेले में खान-पान का रखें ध्‍यान, खुले में रखे खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचें

बदलते मौसम के वक्त बरतें एहतियात : डॉ. जायसवाल

शिशु रोग विशेषज्ञ जेनरल फिजीशियन डॉ आरके जायसवाल ने बताया कि इस मौसम में छोटे बच्चों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. ठंड का मौसम शुरू होने से पहले के समय में ज्यादा एहतियात बरतने की आवश्यकता रहती है. इस मौसम में दिन में गर्मी का अहसास होता है, लेकिन जैसे-जैसे शाम ढलती है, ठंड बढ़ने लगती है. ऐसे में बच्चों पर खास ध्यान देने की जरूरत रहती है. डॉ जायसवाल ने बताया कि ठंड के मौसम में खान-पान पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए. ठंडी चीजें जैसे आइसक्रीम, कूलड्रिंक से बिल्कुल परहेज करना चाहिए. इसके अलावा ज्यादा देर तक रखी खाद्य सामग्री भी नहीं खानी चाहिए या खाने से पहले उसे गर्म कर लेना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- दुर्गा पूजा के दौरान सुरक्षा से जुड़ी कोई परेशानी हो, तो इन नंबरों पर कर सकते हैं कॉल

palamu_12

ठंड का मौसम आने से पहले का हो रहा अहसास : मौसम वैज्ञानिक

मौसम वैज्ञानिक आरएस शर्मा ने बताया कि ठंड का मौसम नजदीक है. अक्तूबर भी आधा बीत चुका है. ऐसे में मौसम परिवर्तन होने से पहले का यह अहसास है. इस मौसम में सुबह के आठ बजे से शाम चार बजे तक गर्मी का अहसास होगा, लेकिन शाम चार बजे के बाद जैसे-जैसे समय बढ़ेगा, ठंड भी वैसे ही आगे बढ़ेगा. उन्होंने बताया कि मौसम में परिवर्तन सामान्य प्रक्रिया है, लेकिन इन दिनों बीमारियों से बचने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए. श्री शर्मा ने कहा कि किसी प्रकार का अलग सिस्टम नहीं बनने कारण अभी फिलहाल बारिश की कोई संभावना नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: