JamshedpurJharkhand

पति की हत्या कर लाश को फ्रिज में डाल जंगल में फेंकनेवाली बुलेट रानी, प्रेमी सहित दोषी करार, सजा पर फैसला 29 को

Jamshedpur : टेल्को थाना अंतर्गत शमशेर रेसीडेंसी की रहनेवाली श्वेता दास उर्फ बुलेट रानी को अपने पति की हत्या करने के मामले में कोर्ट ने अन्य दो लोगों के साथ दोषी करार दिया है. दोषियों में बुलेट रानी का प्रेमी सुमित और सोनू लाल भी शामिल है. तीनों ने हत्या के बाद तपन दास के शव को फ्रिज में रखकर एमजीएम क्षेत्र के बड़ाबांकी में फेंक दिया था. घटना 12 जनवरी 2018 की है.  दो दिन बाद जब शव से दुर्गंध आने लगी, तो  ग्रामीणों ने कुछ अनहोनी की आशंका जताते हुए पुलिस को इसकी जानकारी दी. उसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने फ्रिज से शव को बरामद किया.

हजारीबाग जेल में बंद है श्वेता दास उर्फ बुलेट रानी

घटना के बाद बुलेट रानी के बयान पर थाना में अज्ञात के खिलाफ हत्या का एक मामला दर्ज किया गया. पुलिस ने शव को ठिकाने लगाने में प्रयुक्त टेंपो भी बरामद कर लिया था. बाद में पुलिस जांच में पता चला कि श्वेता उर्फ बुलेट रानी ने अपने प्रेमी सुमित के साथ मिलकर पति तपन दास की हत्या कर दी थी. उसके दूसरे दिन टेंपो से शव को एमजीएम के बड़ाबांकी गांव में झाड़ियों में ले जाकर शव को ठिकाने लगा दिया गया था. इसमें दोनों के दोस्त सोनू लाल ने सहयोग किया था. इसी मामले में एडीजे चार की अदालत ने गुरुवार को तीनों आरोपियों को दोषी करार दिया है. इनकी सजा के बिंदु पर 29 जनवरी को सुनवाई होगी. बता दें कि श्वेता दास उर्फ बुलेट रानी फिलहाल हजारीबाग जेल में बंद है, जबकि सुमित रांची के बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल और सोनू बोकारो जेल में बंद है. मामले में कुल 10 लोगों की गवाही हुई है.

इसे भी पढ़ें – बिहार : दुष्कर्म के आरोपी को कोर्ट ने 4 दिनों में सुनाई फांसी की सजा

Advt

Related Articles

Back to top button