BusinessLead NewsNational

देश के दूसरी सबसे बड़ी तेल रिफाइनरी कंपनी बीपीसीएल के निजीकरण का रास्ता साफ

केंद्र सरकार ने विनिवेश मंजूरी वाले सार्वजनिक तेल उपक्रमों में 100% FDI की अनुमति दी

New Delhi : केंद्र सरकार ने गुरुवार को सार्वजनिक क्षेत्र के ऐसे तेल एवं गैस उपक्रमों में स्वत: स्वीकृत मार्ग से 100 प्रतिशत विदेशी निवेश की अनुमति दी है जिन्हें रणनीतिक विनिवेश के लिए सैद्धांतिक मंजूरी प्राप्त है. इस कदम से देश के दूसरी सबसे बड़ी तेल रिफाइनरी कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लि. (बीपीसीएल) के निजीकरण का रास्ता साफ होगा.

इसे भी पढ़ें :बारिश में डूब गयी ‘आधी रांची’, बाढ़ जैसे हालात

केंद्र सरकार बेच रही है अपनी पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी

सरकार बीपीसीएल का निजीकरण कर रही है और उसमें अपनी पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी बेच रही है. उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) के प्रेस नोट के अनुसार तेल एवं प्राकृतिक गैस क्षेत्र के लिए प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को लेकर एक नया उपबंध जोड़ा गया है.

advt

इसमें कहा गया है, ”यदि सरकार ने किसी सार्वजनिक उपक्रम के रणनीतिक विनिवेश के लिए ‘सैद्धांतिक’ मंजूरी दी है, तो स्वचालित मार्ग के तहत 100 प्रतिशत तक विदेशी निवेश की अनुमति है.” इस संदर्भ में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले सप्ताह निर्णय किया.

इसे भी पढ़ें :JAC ने जारी किये 12वीं के तीनों संकायों के रिजल्ट, 90.71 स्टूडेंट्स पास

दो विदेशी कंपनियों ने भी हिस्सेदारी खरीदने में दिखाई रूचि

बीपीसीएल में सरकार की पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए प्रारंभिक रुचि पत्र (ईओआई) देने वाली तीन कंपनियों में से दो विदेशी हैं. सार्वजनिक उपक्रम प्रवर्तित तेल रिफाइनरियों में एफडीआई की सीमा 49 प्रतिशत बनी रहेगी. यह सीमा मार्च 2008 में निर्धारित की गई थी. सरकार फिलहाल केवल बीपीसीएल में हिस्सेदारी बेच रही है.

इसे भी पढ़ें :इंटर के सभी स्ट्रीम में छात्राएं शीर्ष पर, कॉमर्स में 92.95 प्रतिशत हुईं पास

अब सिर्फ आईओसी ही सरकार के प्रत्यक्ष नियंत्रण में

देश की सबसे बड़ी तेल रिफाइनिंग तथा विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपारेशन (आईओसी) ही अब सरकार के प्रत्यक्ष नियंत्रण में है. हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (एचपीसीएल) अब सार्वजनिक क्षेत्र की ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन की अनुषंगी है.

इसे भी पढ़ें :टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने पूल एक के आखिरी मैच जापान को हराया

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: