World

दुनिया का इंतजार खत्म, आ गयी कोरोना वैक्सीन,  Pfizer-BioNTech के टीके को ब्रिटेन ने दी मंजूरी…   

विज्ञापन

London :  कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर एक अच्छी खबर सामने आयी है. जान लें कि  ब्रिटेन में फाइजर और बायोएनटेक की कोरोना वायरस वैक्सीन को मंजूरी मिल गयी है. ब्रिटेन कोविड-19 वैक्सीन के टीके को मंजूरी देने वाला पहला पश्चिमी देश होगा. खबरों के अनुसार यह वैक्सीन संक्रमण को रोकने में 95% से अधिक प्रभावी करार दी गयी है.

इसे भी पढ़े : किसान आंदोलन :  राहुल गांधी का मोदी पर तंज… मित्रों की आय हुई चौगुनी, किसानों की आधी…

टीका सभी उम्र, नस्ल के लोगों पर कारगर रहा है

जानकारी के अनुसार प्रसिद्ध अमेरिकी दवा कंपनी फाइजर और जर्मन कंपनी बायोएनटेक ने साथ मिलकर इस टीके को विकसित किया है. कंपनी ने हाल में दावा किया था कि परीक्षण के दौरान उसका टीका सभी उम्र, नस्ल के लोगों पर कारगर रहा है बता दें कि ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमिनिक राब ने एक इंटरव्यू में इसके संकेत दिये थे. ब्रिटेन ने 20 नवंबर को अपने चिकित्सा नियामक, मेडिसिन एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी (एमएचआरए) से फाइजर-बायोएनटेक कोरोना वायरस वैक्सीन का आकलन करने को कहा था.

इसे भी पढ़े : झारखंड में Health Care Worker का डाटा कलेक्शन शुरू, कोविड वैक्सीनेशन में मिलेगी प्राथमिकता

ब्रिटेन को 2021 के अंत तक दवा की चार करोड़ खुराक मिलने की संभावना

ब्रिटेन सरकार ने अपनी दवा और स्वास्थ्य उत्पाद नियामक एजेंसी (एमएचआरए)  को कंपनी द्वारा मुहैया कराये गये आंकड़ों पर गौर कर यह देखने को कहा था कि क्या यह गुणवत्ता, सुरक्षा और असर के मामले में सभी मानकों पर खरा उतरता है? ब्रिटेन को 2021 के अंत तक दवा की चार करोड़ खुराक मिलने की संभावना जताई गयी है.  इतनी खुराक से देश की एक तिहाई आबादी का टीकाकरण हो सकता है.

ब्रिटेन में नियुक्त वैक्सीन मंत्री नादिम जहावी के हवाले से एक मीडिया रिपोर्ट में  कहा गया था कि अगर सबकुछ योजना के अनुसार होता है और फाइजर और बायोएनटेक द्वारा विकसित वैक्सीन को मंजूरी मिल जाती है तो उसके कुछ ही घंटों में वैक्सीन का वितरण और टीकाकरण शुरू कर दिया जायेगा.

इसे भी पढ़े :  बिना हमारा पक्ष सुने न हो कोई फैसला,  सुप्रीम कोर्ट में कंगना रानौत का कैविएट

टीके को वर्तमान में बीएनटी162बी2 नाम दिया गया है

इसके अलावा फाइजर और बायोएनटेक ने यूरोपियन मेडिसिंस एजेंसी के समक्ष भी कोरोना वायरस के उनके टीके को मंजूरी के लिए एक आवेदन सौंपा है. अमेरिका की दवा कंपनी मॉडर्ना ने अमेरिकी और यूरोपीय नियामकों से कोविड-19 के अपने टीके का आपातकालीन उपयोग करने की अनुमति देने का अनुरोध किया है.

बायोएनटेक ने कहा है कि टीके को वर्तमान में बीएनटी162बी2 नाम दिया गया है और यदि यह मंजूर हो जाता है तो यूरोप में इसका इस्तेमाल 2020 के अंत से पहले शुरू होने की संभावना है.

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: