Court NewsJharkhandRanchi

प्रभुनाथ सिंह पर फैसला फिर टला, अब 28 अगस्त को होगा

Ranchi: बिहार के पूर्व बाहुबली सांसद प्रभुनाथ सिंह, उनके भाई दीनानाथ सिंह और रीतेश सिंह की किस्मत का फैसला अब 28 अगस्त को होगा. मशरख विधायक अशोक सिंह हत्याकांड में सजायाफ्ता तीनों दोषियों की अपील याचिका पर झारखंड हाइकोर्ट ने फैसले की तारीख 21 अगस्त मुक़र्रर की थी लेकिन अदालत ने एक बार फिर फैसला सुनाने के लिये नयी तारीख दी है.

प्रभुनाथ सिंह, दीनानाथ सिंह और रितेश सिंह तीनों को लगभग दो दशक पुराने मशरख विधायक अशोक सिंह हत्याकांड में हजारीबाग की निचली अदालत ने दोषी पाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनायी थी. इसके साथ ही हजारीबाग कोर्ट ने इन सभी पर 40- 40 हज़ार रुपये का जुर्माना भी लगाया था.

इसे भी पढ़ें – जो सुप्रीम कोर्ट खुद की रक्षा नहीं कर सकता, वह हमारी रक्षा कैसे करेगा? खोखला हो चुका है न्याय तंत्रः अरुण शौरी

सजा के बाद 2017 में दाखिल की थी अपील याचिका

Sanjeevani
MDLM

हजारीबाग जिला अदालत के इस फैसले के खिलाफ तीनों ने हाइकोर्ट में गुहार लगाते हुए वर्ष 2017 में अपील याचिका दायर की और अव तक 20 से ज्यादा तारीखों पर इस मामले में बहस हो चुकी है. वहीं हाइकोर्ट के लगभग आधा दर्जन से ज्यादा न्यायाधीश प्रभुनाथ सिंह के मामले में नॉट बिफोर मी (सुनवाई से इनकार) भी कर चुके हैं.

प्रभुनाथ सिंह के अधिवक्ता हेमंत शिकरवार के द्वारा अदालत में कहा गया है कि इस मामले में निचली अदालत ने कई त्रुटियां की हैं, उनके खिलाफ कोई भी प्रत्यक्ष साक्ष्य नही मिला है. निचली अदालत ने सिर्फ परिस्थितिजन्य साक्ष्य के आधार पर उन्हें दोषी करार दिया है.

इसे भी पढ़ें – चतरा नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष के बेटे सहित 5 तस्कर 9 क्विंटल डोडा के साथ गिरफ्तार

4 Comments

  1. I love looking through a post that can make people think. Also, many thanks for permitting me to comment!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button