Corona_UpdatesNationalTOP SLIDER

वैक्सीन को भी चकमा दे सकता है कोरोना वायरस का C.1.2 वेरिएंट

दक्षिण अफ्रीका सहित कई अन्य देशों में की जा है चुकी पहचान

New Delhi: कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को घुटनों पर ला रखा है. अभी तक विशेषज्ञ डेल्टा वेरिएंट का पुख्ता इलाज नहीं ढूंढ पाये थे कि अब एक और नया वेरिएंट C.1.2 सामने आ गया है. इसकी पहचान दक्षिण अफ्रीका सहित कई अन्य देशों में की जा चुकी है.

Advt

इस पर किए अध्ययन में इस वेरिएंट के बेहद संक्रामक होने तथा वैक्सीन को भी चकमा देने में सफल हो सकने की भी बात सामने आई है. इससे विशेषज्ञों की चिंता बढ़ गयी है.

इसे भी पढ़ें :विरोध का नायाब तरीका : रांची के झिरी में मॉडल ने कचरा पर किया कैटवॉक

C.1.2 को लेकर ये है जानकारी

  • पहली बार दक्षिण अफ्रीका में हुई थी C.1.2 वेरिएंट की पहचान
  • अन्य वेरिएंट की तुलना में कहीं अधिक हुआ म्यूटेशन
  • कोरोना वायरस के शुरुआती वेरिएंट से है बिल्कुल अलग
  • C.1.2 के अन्य वेरिएंटों की तुलना में तेजी से फैलने का है खतरा

इसे भी पढ़ें :झारखंड इन्वेस्टर्स मीट में सीएम और अन्य वीवीआइपीज के बीच मौजूद था टेरर फंडिंग का एक आरोपी!

वैक्सीन सुरक्षा से बचने की भी है क्षमता?

दक्षिण अफ्रीका में नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्युनिकेबल डिजीज (NICD) और क्वाज़ुलु-नेटाल रिसर्च इनोवेशन एंड सीक्वेंसिंग प्लेटफॉर्म (KRISP) के वैज्ञानिकों ने कहा कि C.1.2 वेरिएंट की सबसे पहले पहचान दक्षिण अफ्रीका में इस साल मई में हुई थी.

उसके बाद से पिछले 13 अगस्त तक चीन, कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य, मॉरीशस, यूनाइटेड किंगडम (UK), न्यूजीलैंड, पुर्तगाल और स्विट्जरलैंड आदि देशों में भी इसके कई मामले सामने आ चुके हैं.

इसे भी पढ़ें :गिरिडीह : तिसरी में मधुमक्खियों के हमले से एक बच्चे की मौत, भाई-बहन समेत चार जख्मी

Advt

Related Articles

Back to top button