Sports

IPL का रोमांच : मार्कस स्टोइनिस की आतिशी बल्लेबाजी, महज 21 गेदों में बनाए 53 रन

विज्ञापन

New dehli : IPL का खुमार अब चढ़ने लगा है. दुबई के खाली स्टेडियम में दर्शकों की आवाज नहीं गूंज रही है लेकिन टीवी पर और डिजीटल माध्यमों से करोड़ों लोग पूरे विश्व में इसका लुत्फ उठा रहे हैं. दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच का मैच भी सांस रोक देनेवाला रहा. जिस तरह से दिल्ली कैपिटल्स की शुरूआत हुई थी उससे लग रहा था कि मैच बचाना उसके लिए मुश्किल होगा.

CoronaUpdate:  देश में संक्रमितों का आंकड़ा 54 लाख के पार, 10 लाख से ज्यादा एक्टिव केस

दिल्ली की खराब शुरूआत, स्टोइनिस ने संभाली पारी

दिल्ली कैपिटल्स की शुरूआत बेहद खराब हुई थी. मो शमी की कहर बरपाती गेंदों के सामने दिल्ली के शुरूआती बल्लेबाज पनाह मांगते दिखे लेकिन फिर ऑलराउंडर मार्कस स्टोइनिस की धुआंधार बल्लेबाजी से वह आठ विकेट पर 157 रन का स्कोर बनाने में कामयाब रही. दिल्ली कैपिटल्स ने आखिरी तीन ओवरों में 57 रन जुटाये. जिसमें स्टोइनिस का योगदान अहम रहा. उन्होंने 21 गेंदों पर 53 रन बनाए, जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल हैं.

advt

स्टोइनिस ने जोर्डन को निशाने पर रखा और उन पर 18वें ओवर में छक्का और चौका जड़ने के बाद इस गेंदबाज के पारी के आखिरी ओवर में दो छक्के और तीन चौके लगाए तथा केवल 20 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया. जोर्डन के इस ओवर में 30 रन बने.  दिल्ली का स्कोर तीन विकेट पर 13 रन हो गया था. पिच से असमान उछाल मिल रहा था और किंग्स इलेवन के गेंदबाजों ने इसका फायदा उठाया.

इसे भी पढ़ें :राज्यसभा में हंगामा करनेवाले 8 सांसदों को सभापति ने एक हफ्ते के लिए निलंबित किया, कहा-घटना से बेहद दुखी हूं

 

पावरप्ले में भी बनें महज 23 रन

पावरप्ले में भी दिल्ली कैपिटल्स तीन विकेट पर 23 रन ही बना पाई. पंत और अय्यर दस ओवर तक स्कोर 49 रन तक ही पहुंचा पाए थे. इनमें अय्यर का गौतम पर लांग ऑन पर लगाया गया दर्शनीय छक्का शामिल था. इसी गेंदबाज पर उन्होंने बाद में लगातार दो छक्के लगाकर रन गति बढ़ाई, लेकिन इन दोनों बल्लेबाजों के तीन गेंद के अंदर आउट होने से दिल्ली फिर बैकफुट पर चला गया.

adv

अपना पहला IPL खेल रहे रवि बिश्नोई ने पंत को क्हीन बोल्ड किया. पंत उसकी गुगली को समझने में नाकाम रहे. फिर शमी ने अपने आखिरी ओवर में अय्यर को मिडऑफ पर कैच देने के लिए मजबूर किया. दिल्ली का स्कोर 17 ओवर में तिहरे अंक में पहुंचा लेकिन इसके बाद स्टोइनिस ने पूरा परिदृश्य बदल दिया. उन्होंने इस बात को साबित कर दिया कि क्रिकेट में अंतिम गेंद तक कोई भविष्यवाणी नहीं की जा सकती.

इसे भी पढ़ें :नीतीश सरकार पर तेजस्वी का हमलाः कहा- बिहार के विकास के लिए खरपतवार को उखाड़ फेंकना होगा

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button