न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चोर चौकीदार को चोर कह रहा था, करारा तमाचा लगा है: रघुवर दास

61

Ranchi: राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मीडीया को बुलाया और कांग्रेस को काफी खरी-खोटी सुनाई. उन्होंने कहा कि चोर हमेशा शोर मचाने का काम करता है. यही काम क्रांग्रेस ने किया है. सीएम ने कहा कि एक ईमानदार छवि‍ वाले पीएम नरेंद्र मोदी पर कांग्रेस ने ऊंगली उठाने की कोशिश की. एक चोर चौकीदार को चोर कह रहा था. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस को करारा तमाचा लगा है. जनता जानती है कि नेहरू के समय से ही कांग्रेस घोटाला करते आयी है. तमाम तरह के घोटाले कांग्रेस के नाम पर हैं. ऐसे में चोर लोग राफेल डील पर चिल्ला रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यह साबित हो गया है कि चोर कौन है. कांग्रेस की नीति रही है कि किसी भी काम में वो दलाल को पहले बहाल करती और काम बाद में करती है. लेकिन मोदी सरकार के आते ही सरकार से सरकार की वार्ता की परंपरा शुरू हुई. बिचौलियागिरी खत्म कर दी गयी.

राहुल अब सोर्स बतायें कि उन्हें झूठी बात कहां से पता लगी

सीएम ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राहुल का सच अब सामने आ गया है. अब राहुल को देश के सामने इस बात को रखना चाहिए कि आखिर उन्हें इस झूठ की जानकारी मिली कहां से. राहुल गांधी ने देश की जनता से ना सिर्फ झूठ बोला, बल्कि भारत की जनता को गुमराह किया. सुप्रीम कोर्ट के आदेश का मैं और झारखंड की 3.25 करोड़ जनता स्वागत करती है. जिस तरह से कांग्रेस ने राफेल को लेकर झूठा प्रचार किया, कांग्रेस को अब इस बात के लिए माफी मांगनी चाहिए.

यूपीए के समय का है राफेल, दलाल नहीं मिला तो करार नहीं किया

सीएम ने आगे मीडिया से बात करते हुए कहा कि राफेल कोई आज की बात नहीं है. दरअसल ये करार कांग्रेस के वक्त की है. 2007 में राफेल करार की नींव रखी गयी थी. लेकिन 2014 तक राफेल डील नहीं किया गया. सीएम ने कहा कि दरअसल दामाद जी और उनके एक दोस्त के बीच कमीशन की रेट तय नहीं हो पायी थी. इसलिए मनमोहन ने डील तय नहीं किया. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि पिछले 60 सालों का इतिहास उठा कर देख लें. क्रांग्रेस ने सिर्फ घोटाला ही घोटाला किया है. अभी हाल ही में मोदी सरकार ने एक दलाल पकड़ कर देश लाया है. कभी कवत्रोची तो कभी मिशेल जैसे लोगों से कांग्रेस का नाता रहा है.

जनता कीमत पूछ रही है, इसमें गलत क्याः बाबूलाल

राफेल डील पर बोलते हुए बंद बाबूलाल मरांडी ने कहा मोदी जी ने खुद कहा था कि देश की जनता को देश का पैसा का पाई-पाई हिसाब देंगे. अगर लोग राफेल डील के सौदा की कीमत पूछा रहे हैं, तो इसमें गलत क्या है. इससे सुरक्षा मानकों का उल्लंघन नहीं है. सवाल यह उठता है सरकारी कंपनी होते हुए भी अनिल अंबानी की कंपनी को फायदा क्यों पहुंचाया गया. राफेल खरीद में सरकारी कंपनी को तब्बजो दिया गया और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स को दरकिनार कर दिया गया.

इसे भी पढ़ें: सरकार बताए कि राफेल पर कैग रिपोर्ट कहांं है : राहुल

इसे भी पढ़ें: राज्य की 32 महिला किसान कृषि तकनीक समझने जायेंगी इजरायल, 39 सदस्यीय दल छह जनवरी को होगा रवाना

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: