न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राफेल डील पर फैसले की समीक्षा करने को तैयार सुप्रीम कोर्ट, कहा- जल्द करेंगे विचार

सुप्रीम कोर्ट राफेल मामले में अपने फैसले की समीक्षा की मांग संबंधी याचिका पर सुनवाई करने को तैयार है. बता दें कि वकील प्रशांत भूषण ने  राफेल मामले  पर याचिकाओं पर जल्द सुनवाई की मांग की थी

15

 NewDelhi : सुप्रीम कोर्ट राफेल मामले में अपने फैसले की समीक्षा की मांग संबंधी याचिका पर सुनवाई करने को तैयार है. बता दें कि वकील प्रशांत भूषण ने  राफेल मामले  पर याचिकाओं पर जल्द सुनवाई की मांग की थी. इस पर सुप्रीम कोर्ट के सीजेआई रंजन गोगोई का कहना था कि फिलहाल तारीख तय करना मुश्किल है, लेकिन फिर भी वे इस पर विचार करेंगे. साथ ही सीजेआई ने कहा कि राफेल से संबंधित सभी याचिकाओं की सुनवाई के लिए जजों की बेंच का गठन करना आवश्यक है. बता दें कि राफेल डील को लेकर 14 दिसंबर के फैसले पर चार याचिकाएं दाखिल की गयी थीं.   पहली संशोधन याचिका केंद्र सरकार द्वारा दाखिल की गयी,  जिसमें कहा गया है कि कोर्ट के फैसले में सीएजी  रिपोर्ट संसद के सामने रखी गयी, की टिप्पणी ठीक करें.

कोर्ट की निगरानी में एसआईटी जांच की मांग की गयी थी.

इसके अलावा प्रशांत भूषण, यशवंत सिन्हा और अरूण शौरी ने भी अपनी पुनर्विचार याचिका में SC से राफेल आदेश की समीक्षा करने के लिए कहा था. जिसमें कहा गया कि सरकार ने राफेल जेट का अधिग्रहण करने के लिए निर्णय लेने की सही प्रक्रिया का पालन किया है. इस क्रम में वकील प्रशांत भूषण ने राफेल मामले में कुछ अधिकारियों के खिलाफ न्यायालय को गुमराह करने के लिए झूठी गवाही देने संबंधी अभियोग की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई का भी अनुरोध किया. सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी आप सासंद संजय सिंह, प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा की याचिकाओं पर फैसला सुनाया था. इन याचिकाओं में राफेल डील की कोर्ट की निगरानी में एसआईटी जांच की मांग की गयी थी.

सुप्रीम कोर्ट ने दी थी क्‍लीन चिट  :  बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने राफेल डील मामले में फैसला देते हुए केंद्र सरकार को क्लीन चिट दी थी. कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि राफेल डील प्रक्रिया में कोई खामी नहीं हुई. चीफ सीजेआई ने कीमत और ऑफसेट पार्टनर चुनने की प्रकिया पर विचार किया और पाया कि कीमत की समीक्षा करना कोर्ट का काम नहीं जबकि एयरक्राफ्ट की ज़रूरत को लेकर कोई संदेह नहीं है.

इसे भी पढ़ेंराफेल डील में कोई घोटाला नहीं, भारत सरकार चाहे तो और विमान दे सकते हैं : दसाल्ट एविऐशन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: