JharkhandLead NewsRanchi

युवाओं के हुनर को सम्मान दे रही राज्य सरकार: मुख्यमंत्री

Ranchi: राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि विगत डेढ़ साल पूरे देश-दुनिया के लिए चुनौतीपूर्ण रहा. उद्योग जगत में अभी भी कुछ चिंताएं व्याप्त हैं. लगभग डेढ़ वर्ष से देश-दुनिया सहित हमारे राज्य में भी गतिविधियां थम सी गयी हैं. उन राज्यों में समस्या अधिक रहा जहां संसाधन सीमित हैं. संक्रमण काल में जब लोग अपने-अपने घरों पर बंद थे, तब राज्य सरकार लगातार चिंतन और मंथन में लगी थी. लॉकडाउन रूपी बादल जैसे-जैसे छंटने लगे वैसे ही हमारी सरकार ने गतिविधियों में तेजी लाने का निरंतर प्रयास किया.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :20 सूत्री कार्यक्रम कार्यान्वयन समितिः मंत्रियों को मिली जिम्मेवारी

MDLM

उक्त बातें मुख्यमंत्री ने आज ओरमांझी (कुल्ही) में आयोजित चार कपड़ा उद्योग कंपनियों के औद्योगिक इकाइयों के उद्घाटन एवं नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहीं. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में हुनरमंद युवक-युवतियों की कोई कमी नहीं है.

उचित प्लेटफार्म नही मिलने के कारण यहां के युवक-युवतियां रोजगार की तलाश में दूसरे राज्यों की ओर भटकते थे. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि हमारी सरकार की सोच है कि राज्य के युवाओं के हुनर का उपयोग कर उन्हें रोजगार से जोड़ें तथा उनके हुनर को सम्मान दें.

इसे भी पढ़ें :Jharkhand : एक दिन में लगा रहे 1 लाख से अधिक को वैक्सीन, फिर भी सेकेंड डोज में रह गए पीछे

2000 से अधिक लोगों को मिला नियुक्ति पत्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बताते हुए हर्ष हो रहा है कि आज चार टेक्सटाइल कंपनियों के उद्घाटन के साथ-साथ टेक्सटाइल क्षेत्र में काम करने वाले 2,000 से अधिक लोगों को नियुक्ति पत्र मिल रहा है. रोजगार पानेवालों में 95% लोग झारखंड के हैं, इनमें 80% महिलाएं शामिल हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि घर परिवार में महिलाएं मजबूत होंगी तभी आने वाली पीढ़ी भी सशक्त हो सकेगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए बेहतर कार्य योजना के साथ आगे बढ़ रही है.

आने वाले दिनों में इन कार्य योजनाओं का रिजल्ट हम सभी के बीच अवश्य दिखेगा. मुख्यमंत्री ने योजनाबद्ध तरीके से आज यहां टेक्सटाइल इंडस्ट्री को स्थापित करने का काम किया है तथा सरकार के साथ अपनी इनोवेटिव आइडिया साझा करने वालों को शुभकामनाएं दीं.

इसे भी पढ़ें :NEWSWING ROUNDUP: 6 DECEMBER

रोजगारपरक योजनाओं को धरातल पर उतारने का हो रहा प्रयासः पूजा सिंघल

इस अवसर पर उद्योग सचिव पूजा सिंघल ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के नेतृत्व में उद्योग विभाग द्वारा निरंतर रोजगारपरक योजनाओं पर फोकस किया जा रहा है. मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार वैसे उद्योगों को धरातल पर उतारने का प्रयास किया जा रहा है जिनमें अधिक से अधिक लोगों को रोजगार मिल सके.

आज इस मंच से 2 हजार लोगों को रोजगार मिल रहा है, जिसमें 80% महिलाएं शामिल हैं. नियुक्ति पत्र पाने वाले महिलाओं में वैसी भी युवतियां भी शामिल हैं, जो लॉककडाउन के पहले तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और केरल जैसे राज्यों में काम कर रही थीं, राज्य सरकार ने उन्हें अपने गांव-घर अथवा जिलों में ही रोजगार देने का भरोसा दिया था.

उन्होंने कहा कि बेहतर टेक्सटाइल पॉलिसी के तहत आने वाले 6 महीनों में टेक्सटाइल क्षेत्र में काम करने वाले 10 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा इसकी पूरी तैयारी कर ली गयी है.

मौके पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने सांकेतिक रूप से कई युवतियों के बीच नियुक्ति पत्र का वितरण किया. मुख्यमंत्री ने किशोर एक्सपोर्ट्स यूनिट का परिभ्रमण भी किया तथा वहां कार्यरत कर्मियों से उनका हालचाल जाना एवं उत्पादन से संबंधित जानकारी भी हासिल की.

इसे भी पढ़ें :बाबरी ढांचा विध्वंस की बरसी पर स्वरा भास्कर के ट्वीट को ले सोशल मीडिया पर बवाल, यूजर बोले- काश तुम बाबर के यहां राज नर्तकी होती…

इनकी रही उपस्थिति

इस अवसर पर खिजरी विधायक राजेश कच्छप, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, उद्योग सचिव पूजा सिंघल, निदेशक उद्योग जितेंद्र कुमार सिंह, उपायुक्त रांची छविरंजन, प्रेसिडेंट औद्योगिक क्षेत्र कुल्ही एसोसिएशन दीपक अग्रवाल, ओरिएंट क्राफ्ट लिमिटेड के निदेशक सुधीर ढिंगरा, अरविंद टेक्सटाइल कंपनी के सीईओ अंकुर त्रिवेदी एवं मैट्रिक्स टेक्सटाइल कंपनी के एचआर हेड बीएन झा सहित अन्य नियोक्ता एवं नियुक्ति पत्र पाने वाले युवक-युवतियां तथा अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें :Sonu Sood को बीएमसी ने फिर भेजा नोटिस, रेजिडेंशियल बिल्डिंग को होटल बनाने पर थी आपत्ति

Related Articles

Back to top button